न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत के एक्शन से डरा मसूद अजहर, ऑडियो संदेश में कहा- जैश ने नहीं किया पुलवामा हमला

ऑडियो क्लिप जारी कर कहा ना आदिल को जानता हूं, ना कभी मिला.

711

Shrinagar: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला करनेवाला मसूज अजहर अब अपने बयान से मुकरता नजर आ रहा है. आतंकी हमले के ठीक एक हफ्ते बाद जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर ने नया ऑडियो जारी किया है. इस ऑडियो क्लिप में मसूद अजहर ने पुलवामा आतंकी हमले में किसी तरह का हाथ होने से इनकार किया है.

इतना ही नहीं उसने यहां तक कहा है कि वह कभी आतंकी आदिल अहमद डार से मिला भी नहीं था. बता दें कि आदिल ने ही पुलवामा में आत्मघाती हमला किया था और अपनी गाड़ी लेकर सीआरपीएफ के काफिले में जा घुसा था. अपने ऑडियो में जैश सरगना ने पाकिस्तानी सरकार और मीडिया को डरपोक भी बताया. गौरतलब है कि हमले के बाद जैश ने इसकी जिम्मेदारी ली थी. और इसे लेकर एक वीडियो भी जारी किया गया था. जिसमें आदिल अहमद डार को दिखाया गया था. लेकिन अब वह मुकरता दिख रहा है.

‘चीन पाक के साथ, हमें डरने की जरुरत नहीं’

पुलवामा हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग पड़ रहे पाकिस्तान को मसूद अजहर ने नहीं डरने की सलाह दी है. उसने कहा कि चीन हमेशा पाकिस्तान का ही समर्थन करेगा, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है. उसने कहा कि नरेंद्र मोदी कश्मीर में पूरी तरह फेल हो गए हैं. गुरुवार को जारी किए गए इस ऑडियो में मसूद अजहर ने कहा कि पुलवामा हमले से हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 2019 के लोकसभा चुनाव में घाटा होगा. उसने ये भी कहा कि वह पाकिस्तान को किसी तरह की जंग में नहीं धकेलना चाहता है.

‘आदिल को नहीं जानता’

पुलवामा हमले पर अपनी सफाई देते हुए ऑडियो में मसूद अजहर ने आदिल अहमद डार का भी नाम लिया. इस ऑडियो में उसने आदिल से किसी तरह का संबंध होने से भी नकारा, उसने कहा कि पूरी दुनिया आदिल को मेरे साथ जोड़ रही है. लेकिन मेरी हसरत है कि काश, मैं उससे कभी मिला होता. अगर आदिल की वजह से मुझे मार दिया जाए तो कोई गम नहीं होगा, ये मेरे लिए शहादत होगी. ऑडियो में मसूद अजहर बोला, ‘’ जितनी गाली देनी है दे दो मुझे, लेकिन आदिल अहमद के खिलाफ कुछ ना कहना, कश्मीर में आजादी की लड़ाई अपने पैरों पर खड़ी हो चुकी है. वहां किसी विदेशी ताकत की जरूरत नहीं है.’’

पुलवामा आतंकी हमले के बाद दुनियाभर में घिरी पाकिस्तान की सरकार को मसूद अजहर ने डरपोक करार दिया है. उसने अपने ऑडियो संदेश में कहा कि यहां की मीडिया और सरकार दोनों ही डरी हुई है. उसने अपील की है कि पाकिस्तानी आवाम को हिंदुस्तान के दबाव में नहीं आना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे, पहले इसकी जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. लेकिन अब जैश का सरगना इससे मुकरता दिख रहा है.

इसे भी पढ़ोंः # पुलवामा अटैक: 18 हुर्रियत नेता और 155 राजनीतिक व्यक्तियों की सुरक्षा हटी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: