न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिना नोटिस दिए इंडियन ऑयल डिपो ने 250 लोगों को हटाया

80

Ranchi : इंडियन ऑयल डिपो नामकुम के कर्मचारियों को बिना नोटिस दिए काम से हटा दिया गया. विगत एक जनवरी को कर्मचारियों को काम से हटाये जाने की जानकारी दी गयी, वो भी मौखिक रुप से. कर्मचारियों को काम से हटाये जाने से लगभग 250 लोग प्रभावित हुए हैं. कर्मचारियों ने जानकारी दी कि प्रबंधन की ओर से बिना कोई जानकारी दिए हटा दिया गया. जबकि यहां कई लोग ऐसे हैं जिनकी उम्र 52-64 साल हो चुकी है. झारखंड पेट्रोलियम श्रमिक यूनियन के एसके राय ने बताया कि इस संबध में कई बार डीजीएम बीसी मांझी से बात की गयी. लेकिन उन्होंने कर्मचारियों से किसी तरह की बात करने से मना कर दिया.

डिपो को बनाना है कार्यालय

डिपो का तबादला खूंटी कर दिया गया है. वहीं नामकुम में इंडियन ऑयल की ओर से कोई अन्य कार्यालय बनाने की योजना चल रही है. एसके मांझी ने जानकारी दी कि प्रबंधन का कहना है कि डिपो में कार्य कर रहे कर्मचारियों को यहां काम नहीं मिलेगा. मुख्य कार्यालय में नये कर्मचारियों को नियुक्त किया जाएगा.

जबकि कर्मचारी मांग कर रहे है कि पुराने कर्मचारियों को ही डिपो में रखा जाए.

डिपो गेट में धरने पर बैठे हैं कर्मचारी

एक जनवरी से कर्मचारी डिपो गेट में ही बैठे हैं. अपनी मांगों को लेकर कई कर्मचारी विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. डिपो गेट के अंदर प्रबंधक को नहीं जाने दे रहे हैं. कर्मचारियों ने जानकारी दी कि डीजीएम ने नामकुम थाना में इसकी शिकायत  की है. जिससे पुलिसकर्मी डिपो आकर कर्मियों को गेट से हटने की बात करते हैं.  शनिवार सुबह भी कर्मचारियों और पुलिस के बीच बकझक हुई थी.

डीजीएम ने कहा कर्मचारी हमारे नहीं

इस मामले में जब डिपो के डीजीएम बीसी मांझी से बात की गयी, तो उन्होंने कहा कि कर्मचारी अब हमारे नहीं है. कांट्रैक्टर समझे की क्या करना है. पिछले छह माह से काम बंद है. ऐसे में कर्मचारियों को हटाने वाली कोई बात नहीं है. इंडियन  ऑयल की जमीन है. ऐसे में इस जमीन में कोई और भी कंपनी खोली जा सकती है.

इसे भी पढ़ें : हवा में लटका बोकारो हवाईअड्डा ! किसी को पता ही नहीं कौन काटेगा एयरपोर्ट निर्माण के लिए पेड़

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: