न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने कहा,  17 जून को देश भर में डॉक्टर हड़ताल पर रहेंगे  

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है कि 17 जून को देश भर में डॉक्टर हड़ताल पर रहेंगे.  सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही जारी रहेंगी.

69

NewDelhi : इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है कि 17 जून को देश भर में डॉक्टर हड़ताल पर रहेंगे.   इस दौरान सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही जारी रहेंगी.  इस क्रम में  एसोसिएशन ने कहा, हम अस्पतालों में डॉक्टरों की सुरक्षा चाहते हैं. कहा कि कोलकाता में मेडिकल छात्र बेहद डरे हुए हैं, सड़कों पर हिंसा शुरू हो गयी हैं. हम चाहते हैं कि समाज हमारे साथ आये. कोलकाता में हुई हिंसा के आरोपियों को सज़ा हो. अस्पतालों में हिंसा के खिलाफ केंद्रीय कानून लागू हो. हम घोषणा करते हैं कि 17 जून को पूरे देश में हड़ताल की जायेगी.  उस दौरान सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी.

बता दें कि आईएमए के सेक्रेटरी ने कहा कि 17 जून को हमने डॉक्टरों की देशव्यापी हड़ताल आहूत की है. हड़ताल में निजी अस्पताल भी शामिल  होंगे. कहा कि डॉक्टरों के साथ मारपीट की घटनाएं आम हैं. हम चाहते हैं कि हमारी सुरक्षा के लिए कानून लागू हो. कहा कि 19 राज्यों में  सेंट्रल एक्ट अगेंस्ट वायलेंस इन हॉस्पिटल्स पास हो चुका है, पर एक राज्य ने यह कानून लागू नहीं किया है.

दिल्ली तक पहुंची प. बंगाल के हड़ताली डॉक्टरों की गूंज, मरीज हलकान

मरीज बंद से परेशान होंगे पर हमारी सुरक्षा भी जरूरी

हमें पता है कि मरीज बंद से परेशान होंगे पर हमारी सुरक्षा भी जरूरी है.  सिर्फ़ आपातकालीन सेवाएं जारी रहेंगी. 17   को सुबह 6 बजे से लेकर 18 तारीख की सुबह 6 बजे तक हड़ताल जारी रहेगी.  बता दें कि कोलकाता के सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों पर हुए हमले के बाद हड़ताल ने देशभर के डॉक्टर एकजुट होकर विरोध-प्रदर्शन कर रह रहे हैं.  दिल्ली, मुंबई से लेकर राजस्थान, केरल, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में डॉक्टर अब एकजुट नजर आ रहे हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि डॉक्टरों को वे धमका रही हैं. उन्हें हड़ताल खत्म करवाने के लिए कदम उठाना चाहिए. डॉ हर्षवर्धन आज ममता बनर्जी को पत्र लिखेंगे और डॉक्टरों की हड़ताल खत्म करने की अपील करेंगे. वहीं दूसरी तरफ बंगाल के दो अलग-अलग अस्पतालों से कुल 43 डॉक्टरों ने इस्तीफा दे दिया है. नॉर्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, दार्जिलिंग के 27 और आरजी कर मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, कोलकाता के 16 डॉक्टरों ने इस्तीफा दे दिया है.

इसे भी पढ़ेंः  चेन्नई  : ऑफिस में पानी नहीं है, घर पर रह कर काम करें, आईटी कंपनियों का अपने कर्मचारियों से आग्रह

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्लर्क नियुक्ति के लिए फॉर्म की फीस 1000 रुपये, कितना जायज ? हमें लिखें..
झारखंड में नौकरी देने वाली हर प्रतियोगिता परीक्षा विवादों में घिरी होती है.
अब JSSC की ओर से क्लर्क की नियुक्ति के लिये विज्ञापन निकाला है.
जिसके फॉर्म की फीस 1000 रुपये है. यह फीस UPSC के जरिये IAS बनने वाली परीक्षा से
10 गुणा ज्यादा है. झारखंड में साहेब बनानेवाली JPSC  परीक्षा की फीस से 400 रुपये अधिक. 
क्या आपको लगता है कि JSSC  द्वारा तय फीस की रकम जायज है.
इस बारे में आप क्या सोंचते हैं. हमें लिखें या वीडियो मैसेज वाट्सएप करें.
हम उसे newswing.com पर  प्रकाशित करेंगे. ताकि आपकी बात सरकार तक पहुंचे. 
अपने विचार लिखने व वीडियो भेजने के लिये यहां क्लिक करें.

you're currently offline

%d bloggers like this: