Corona_UpdatesNationalWorld

भारतीय दूतावास ने भारत वापसी की इच्छा रखने वालों से शुरू किया संपर्क

विज्ञापन

Washington: भारतीय दूतावास ने उन भारतीय नागरिकों से संपर्क करना शुरू किया है जो कोरोना वायरस महामारी की वजह से लागू बंद के बाद घर वापस लौटने की इच्छा रखते हैं.

गौरतलब है कि भारत सरकार ने विदेशों में फंसे नागरिकों को स्थिति के आकलन के बाद घर लाने संबंधी विचार पर निर्णय करने के संकेत दिये थे जिसके बाद दूतावास ने यह कदम उठाया है.

advt

इसे भी पढ़ें- कोरोना के बाद कितनी बदलेगी दुनिया, कैसा होगा हमारा रहन-सहन और काम का तरीका, जानें इस लेख में

इन देशों से होगी पहले चरण की शुरुआत

सरकार ने 10 अप्रैल को कहा था कि कोविड-19 स्थिति की समीक्षा के बाद विदेशों में फंसे भारतीय लोगों को लाने संबंधी विचार पर निर्णय लिया जाएगा.

विदेश मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव दम्मू रवि ने कहा कि विदेश में रह रहे भारतीय लोगों के बारे में कुछ सवाल आये हैं. ऐसी स्थिति है जहां हम कोई निश्चित जवाब नहीं दे सकते हैं क्योंकि वहां अब भी बंद है. हमें स्थिति की समीक्षा करनी होगी…यह सरकार का फैसला होगा कि हम अन्य देशों से भारतीय लोगों की वापसी का प्रबंध कैसे करेंगे?

adv

इसके लिए पहले चरण की शुरुआत संभवत: खाड़ी देश, ब्रिटेन और यूरोप के अन्य हिस्सों से होगी. इसके बाद अमेरिका के बारे में विचार किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें- छह साल से “ईज ऑफ डूइंग बिजनेस” का शोर है, फिर चीन से निकलने वाली कंपनियां भारत क्यों नहीं आ रही

यहां रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं इच्छुक लोग

भारतीय दूतावास ने बुधवार को भारतीय सामुदायिक संगठनों और हाल में संपर्क किये गये लोगों को ईमले भेजना शुरू किया. वैसे लोग जो घर वापस जाना चाहते हैं, वे https://indianembassyusa.gov.in/Information_sheet1 पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. हालांकि अभी यात्रा के संबंध में कोई तारीख नहीं तय की गयी है. अमेरिका में फंसे भारतीय लोगों की कुल संख्या को लेकर भी कोई आधिकारिक आंकड़ा नहीं है.

हालांकि ऐसा कहा जा रहा है कि इसमें कई छात्र हैं. यहां विश्वविद्यालय पूरे सत्र के लिए बंद है. इसके अलावा कुछ लोग ऐसे भी हैं जो थोड़े समय के लिए यहां आये थे और जिनके पास धन समाप्त हो चुका है.

इसे भी पढ़ें- माल्या, नीरव व चोकसी जैसे भगोड़ों से कर्ज की वसूली के लिए RBI उठाये कदम: चिदंबरम

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close