न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अमेरिकी प्रतिबंध को दरकिनार कर ईरान के साथ तेल आयात जारी रखेगा भारत

भारत अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद ईरान के साथ तेल आयात जारी रखेगा.  बता दें कि सरकारी रिफाइनर्स ने ईरान से 1.25 मिलियन टन क्रूड ऑइल खरीदने के लिए अनुबंध किया है. 

131

NewDelhi : भारत अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद ईरान के साथ तेल आयात जारी रखेगा.  बता दें कि सरकारी रिफाइनर्स ने ईरान से 1.25 मिलियन टन क्रूड ऑइल खरीदने के लिए अनुबंध किया है.  साथ ही भारत ने डॉलर की जगह रुपये में कारोबार करने की दिशा में कदम बढ़ाने की तैयारी कर ली है.  टॉप इंडस्ट्री के सूत्रों के अनुसार  इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOC) और मंगलोर रिफाइनरी ऐंड पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड (MRPL) ने नवंबर में ईरानी तेल के आयात के लिए 1.25 मिलियन टन्स का अनुबंध किया है. बता दें कि नवंबर में ही ईरान के ऑयल सेक्टर के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध लागू होनेवाले हैं.  रूस से S-400 डील के बाद यह एक तरह से भारत की तरफ से अमेरिका को दिया गया दूसरा झटका है.

इसे भी पढ़ेंः रूसी खुफिया एजेंसी पर पश्चिमी देशों ने साइबर हमलों का आरोप लगाया, रूस ने खारिज किया

IOC ईरान से हर माह सामान्य मात्रा में तेल खरीद रहा है

Related Posts

#Amazon के CEO जेफ बेजोस चाहते थे PM मोदी से मिलना, लेकिन अपॉइन्टमेंट नहीं  मिला! क्या रही वजह

पीएम मोदी के बेजोस से न मिलने को अमेजन के स्वामित्व वाले अखबार वाशिंगटन पोस्ट में सरकार विरोधी आर्टिकल्स से जोड़कर भी देखा जा रहा है.

खबरों के अनुसार भारत कम मात्रा में ही सही पर ईरान से तेल आयात जारी रखना चाहता है. सूत्र बताते हैं कि IOC ईरान से हर माह सामान्य मात्रा में तेल खरीद रहा है. वित्त वर्ष 2018-19 में (अप्रैल 2018 से मार्च 2019) IOC की 9 मिलियन टन ईरानी तेल आयात करने की योजना तैयार है.  हालांकि पिछले माह अमेरिकी   विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा था कि वॉशिंगटन प्रतिबंध पर छूट को लेकर विचार करेगा,  लेकिन अगर ऐसा किया गया तो इसकी समयसीमा तय की जायेगी.  ईरान के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध चार नवंबर से लागू होने हैं, जिससे पेमेंट के रास्ते बाधित हो जायेंगे; सूत्रों का कहना है कि भारत और ईरान चार नवंबर के बाद रुपये में कारोबार करने पर विचार कर रहे हैं.

Sport House
Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like