JharkhandRanchi

भारत को पाकिस्तान के साथ क्रिकेट मैच नहीं खेलना चाहिए : कड़िया मुंडा

Ranchi : एक ओर जहां T-20 क्रिकेट वर्ल्ड कप में 24 अक्टूबर को भारत बनाम का मुकाबला होने वाला है, वहीं दूसरी ओर अधिकतर लोग इस मैच का विरोध कर रहे हैं. हलांकि कुछ लोग यह भी मानते हैं कि खेल को राजनीति से दूर रखना चाहिए और भारत को पाकिस्तान के साथ मैच जरूर खेलना चाहिए.

इसे भी पढ़ें : जिनका दूसरा डोज बाकी उनकी सूची उपलब्ध कराने का निर्देश

advt

लोकसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर और पदृमभूषण सम्मान से अलंकृत भाजपा के वयोवृद्ध नेता कड़िया मुंडा कहते हैं कि पाकिस्तान आतंक को लगातार बढ़ावा दे रहा है और भारत में हमेशा खून-खराबा कर रहा है. ऐसे दुश्मन राष्ट्र से क्रिकेट मैच खेलना कतई उचित नहीं है. कड़िया मुंडा ने कहा कि पाकिस्तानी आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में टारगेट किलिंग की घटनाओं को अंजाम देने में जुटे हैं. घाटी में आतंकी आम लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं. यही नहीं टारगेट किलिंग की वारदातों को अंजाम देने के लिए आतंकी नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं. ऐसे में भारत को इस मैच का बहिष्कार कर देना चाहिए. तोरपा के भाजपा विधायक कोचे मुंडा का भी मानना है कि भारत को मैच नहीं खेलना चाहिए. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को दुश्मन राष्ट्र घोषित कर देना चाहिए. विश्व हिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष विनोद जायसवाल कहते हैं कि पाकिस्तान जैसे आतंक परस्त देश से भारत को फिलहाल किसी तरह का खेल नहीं खेलना चाहिए. विहिप के जिला सचिव प्रियांक भगत ने कहा कि देश की सुरक्षा और सम्मान से बड़ा क्रिकेट नहीं है. पाकिस्तान भारत की सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा है. किसी भी हाल में भारत को उसके साथ मैच नहीं खेलना चाहिए. झारखंड विकास मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष और समाजसेवी दिलीप मिश्र कहते हैं कि पाकिस्तान भारत की एकता और अखंडता के लिए सबसे बड़ा खतरा है. उन्होंने कहा कि इसके पहले भी खेल के माध्यम से भारत ने पड़ोसी देश से संबंध सुधारने के कई प्रयास किये हैं, लेकिन नतीजा शून्य ही रहा. इसलिए भारत को कभी मैच नहीं खेलना चाहिए. इसके विपरीत कांग्रेस के जिलाध्यक्ष रामकृष्ण चौधरी कहते हैं कि खेल को राजनीति से दूर रखना चाहिए. खेल के माध्यम से हम पड़ोसी देशों से संबंध सुधार सकते हैं.

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: