ChaibasaEducation & CareerJamshedpurJharkhand

Jamshedpur: क्विज को म्यूजिकल इवेंट बना दिया बैरी ओ ब्रायन ने, लोयोला के 75 साल पूरा होने पर इंडिया क्विज का आयोजन

मेजबान लोयोला बना विजेता, हिल टॉप और कॉन्वेंट की टीम दूसरे और तीसरे स्थान पर रही

Jamshedpur: कुछ ना कहो… कुछ भी ना कहो
क्या कहना है… क्या सुनना है
मुझको पता है… तुमको पता है
समय का ये पल… थमसा गया है
और इस पल में… कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ… बस एक तुम हो…
देश के मशहूर क्विज मास्टर बैरी ओ ब्रायन ने 1942 ए लव स्टोरी..के इस गीत को आवाज दी तो लोयोला का फेजी ऑडिटोरियम झूमता रहा. बैरी के साथ स्कूल के विद्यार्थियों और शिक्षकों ने समवेत स्वर में इस गीत को गाकर क्विजिंग को मनोरंजक और रोचक बना दिया. देश की आजादी के साथ ही लोयोला स्कूल के 75 साल पूरा होने के अवसर पर आयोजित इंडिया क्विज में 75 साल का सफरनामा दिखा, जिसमें अल्बर्ट आइंस्टीन द्वारा महात्मा गांधी को लिखे पत्र से लेकर राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतने वाली निखत जरीन तक पर सवाल पूछे गये. बैरी ने अपनी खास शैली में बहुत सालों के बाद शहर में क्विज का संचालन कर पुराने दिनों की याद ताजा कर दी. क्विज के ऑडियो और विजुअल राउंड के साथ ही उनके खास नेमसेक और कनेक्शन राउंड ने विद्यार्थियों की लैटरल और आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग को मंच दिया. शाहरूख खान की फिल्म चक दे इंडिया से लेकर, भारत कुमार के नाम से मशहूर मनोज कुमार, आरके नारायणन की पुस्तक पर आधारित फिल्म गाइड और फिल्म शोर के गीत एक प्यार का नगमा है…से संबंधित रोचक सवाल भी थे. सिनेमा से लेकर देश की कला, संस्कृति, खानपान और रहन सहन पर पूछे गये सवालों के जवाब प्रतिभागियों ने दिए. देश की मशहूर हस्तियों के साथ लोयेलियन रहे मशहूर नर्तक अस्ताद देबू, प्रियंका चोपड़ा, सिमोन सिंह, इम्तियाज अली के साथ ही जेआरडी पर भी सवाल थे.

काफी उतार-चढ़ाव के बाद मेजबान लोयोला को मिली जीत


दो घंटे तक पूरा ऑडिटोरियम क्विजिंग का मैग्नेटिक फिल्ड बना रहा. शुरू में बढ़त बनाई मेजबान लोयोला की टीम बीच के राउंड में पिछड़ती चली गई. सेक्रेड हॉर्ट कॉन्वेंट ने अधिकतर सवालों के सही जवाब देकर अपनी बढ़त बनाए रखी, लेकिन अंत में कनेक्शन राउंड ने एक बार फिर से लोयोला को बढ़त दिला दी. इस राउंड में बैक टू बैक जवाब देकर लोयोला की टीम 105 स्कोर तक पहुंच गई, लेकिन दो सवालों के गलत जवाब देने पर वह 95 पर आ गई. सेक्रेड हॉर्ट कॉन्वेंट स्कूल और हिल टॉप स्कूल 80-80 स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रहे. इसके बाद ट्राई ब्रेकर मुकाबले में हिल टॉप स्कूल की टीम सही जवाब देकर फर्स्ट रनर अप का खिताब जीतने में सफल रही. सेकेंड रनर अप का खिताब सेक्रेड हॉर्ट कॉन्वेंट को मिला.

Sanjeevani

विजेता को 20 हजार नकद और गोल्ड ट्रॉफी मिला

क्विज की विजेता रही मेजबान लोयोला स्कूल की टीम को गोल्ड ट्रॉफी के साथ 20 हजार का नकद इनाम मिला. फर्स्ट रनर अप को सिल्वर ट्रॉफी और नकद 15 हजार रूपए जबकि सेकेंड रनर अप को ब्रांज ट्राफी के साथ 10 हजार नकद पुरस्कार मिलें.


पूर्वी क्षेत्र के 33 स्कूलों ने क्विज में भाग लिया
क्विज में जमशेदपुर के अलावा रांची, धनबाद और भुवनेश्वर के स्कूलों ने भाग लिया. इसके प्रारंभिक चरण में 33 स्कूलों की 60 से अधिक टीमों ने भाग लिया. इनमें से आठ टीमें फाइनल में पहुंची. ये टीमें थीं-लोयोला स्कूल, हिल टॉप स्कूल, विद्या भारती चिन्मया विद्यालय, डीएवी पटेलनगर, डीबीएमएस इंग्लिश हाई स्कूल, एसडीएसएम स्कूल, सेक्रेड हार्ट कॉन्वेंट और मोतीलाल नेहरू पब्लिक स्कूल.

किसे मिला कितना स्कोर
स्कूल स्कोर
1.लोयोला स्कूल 95
2.हिल टॉप स्कूल 90 (टाइब्रेकर)
3.सेक्रेड हॉर्ट कॉन्वेंट 80
4.डीबीएमएस इंग्लिश स्कूल 75
5.चिन्मया विद्यालय 50
6.डीएवी पटेलनगर 40
7.एमएनपीएस 20
8.एसडीएसएम जीरो

प्रिंसिपल फादर पायस ने दिया पुरस्कार
विजेताओं को लोयोला स्कूल के प्रिंसिपल फादर पायस फर्नांडीस के साथ ही फादर विनोद फर्नांडीस, फादर केएन जोसेफ, राजीव तलवार, डिक्की मोदी ने पुरस्कार दिए. फादर पायस ने कहा कि देश की आजादी के साथ ही स्कूल के 75 साल पूरा होने पर खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं कि देश की आजादी के 75 साल के सफरनामा का गवाह रहा है यह स्कूल. हमारी कोशिश है कि स्कूल से बेहतर नागरिक बन कर निकले, जो देश के विकास के वाहक बनें और दुनिया में भारत का नाम रौशन करें.

1947 में लोयोला स्कूल की स्थापना हुई थी
लोयोला स्कूल की स्थापना आजादी के साथ ही हुई थी. स्कूल ने इन 75 सालों में देश ही नहीं दुनिया भर को ऐसे युवा दिए हैं, जो विभिन्न क्षेत्र में देश का नाम रौशन कर रहे हैं. लोयोला स्कूल जमशेदपुर ने 1997 में अपनी स्वर्ण जयंती मनाई थी. दशकों से स्वतंत्र भारत के साथ आगे बढ़ते हुए लोयोला स्कूल, गर्व से अपनी वर्षगांठ मना रहा है और राष्ट्र के साथ अपनी वर्षगांठ साझा कर रहा है.
ये भी पढ़ें- JAMSHEDPUR : पहले केस उठाने के लिए दी धमकी अब रंगदारी का लगा दिया झूठा आरोप, एसएसपी से शिकायत

Related Articles

Back to top button