Lead NewsMain SliderNationalNEWS

पड़ोसी देशों को कोरोना वैक्सीन की एक करोड़ डोज दान कर सकता है भारत

अफगानिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश, मालदीव जैसे देशों को मिल सकता है फायदा

New delhi: देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वैक्सीनेशन का काम सुचारु चल रहा है. भारत शुरुआत से ही इस बीमारी के प्रति पड़ोसी देशों को लेकर संवेदना जता रहा है. अब भारत ने एक और कदम आगे बढ़ाते पड़ोसी देशों को एक करोड़ टीके दान करने की तैयारी में है.अफगानिस्तान, भूटान, बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका, मालदीव और मॉरीशस को वैक्सीन दान कर सकता है.

इसे भी पढेंः इस ब्लड ग्रुप वालों पर है कोरोना संक्रमण का सबसे अधिक ख़तरा

मालूम हो कि भारत सरकार ने भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड को आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी है, जिसके बाद 16 जनवरी से भारत में टीकाकरण अभियान चल रहा है. पुष्ट स्रोतों से मिल रही जानकारी के अनुसार  भारत इन देशों को कोरोना टीकों की लगभग 10 मिलियन (1 करोड़) खुराक का दान करने पर विचार कर रहा है, जिनके साथ उसके मैत्रीपूर्ण संबंध हैं.

 

नाम न छापने की शर्त पर उनमें से एक अधिकारी ने कहा कि भारत सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की करीब 10 मिलियन खुराक अफगानिस्तान, भूटान, बांग्लादेश, नेपाल, लंका, मालदीव, मॉरीशस और सेशेल्स जैसे देशों को दान कर सकता है.

 

इधर, भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शेरिंग ने ऐलान किया कि भारत सरकार ने उन्हें कोरोना की वैक्सीन फ्री में देगी. इसके अलावा, 20 जनवरी को बांग्लादेश को भी भारत की तरफ से कोरोना कोविशील्ड की 2 मिलियन डोज बतौर गिफ्ट मिलेगी. इतना ही नहीं, नेपाल को भी भारत सरकार फ्री में कोरोना वैक्सीन देगी. माना जा रहा कि पड़ोसी दशों पर चीन के बढ़ रहे प्रभाव के मद्देनजर भारत यह कदम उठा रहा है.

इसे भी पढ़ेंःदर्दनाक हादसाः सूरत में फुटपाथ सो रहे मजदूरों को ट्रक ने रौंदा, 15 की मौत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: