National

#NetajiSubhasChandraBose का भारत हमेशा आभारी रहेगा: PM

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को को कहा कि भारत सुभाष चंद्र बोस के साहस और उपनिवेशवाद के खिलाफ लड़ाई में उनके अमिट योगदान का हमेशा आभारी रहेगा.

सुभाष चंद्र बोस को उनकी 123वीं जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वह भारतीयों की उन्नति और कल्याण के लिए खड़े हुए.

मोदी ने नेताजी के नाम से पहचाने जाने वाले बोस का जिक्र करते हुए कहा कि 23 जनवरी 1897 को जानकीनाथ बोस ने अपनी डायरी में लिखा कि दोपहर में बेटे का जन्म हुआ. यही बेटा साहसी स्वतंत्रता सेनानी और विचारक बना जिसने अपना जीवन भारत की स्वतंत्रता के लिए समर्पित कर दिया.

advt

इसे भी पढ़ें- 24 जनवरी को हो सकता है हेमंत मंत्रिमंडल का विस्तार!

स्वाधीनता आंदोलन के आदर्शों का सम्मान ही नेताजी को सच्ची श्रद्धांजलि: नायडू

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने गुरुवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 123वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि स्वाधीनता आंदोलन के आदर्शों का सम्मान करना ही नेताजी के प्रति कृतज्ञ श्रद्धांजलि होगी.

नायडू ने ट्वीट किया कि आज नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर पुण्य स्मृति को कोटि-कोटि प्रणाम करता हूं. स्वतंत्रता आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभाने वाले स्वाधीनता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्म 1897 में हुआ था.

इसे भी पढ़ें- नसीरुद्दीन ने कहा जोकर तो अनुपम ने दिया करारा जवाब, कहा- सालों से कुछ पदार्थों के सेवन का नतीजा है यह बयान

adv

नायडू ने अपने दक्षिण भारत दौरे का ज़िक्र करते हुए कहा कि गत सप्ताह अंडमान निकोबार द्वीपसमूह की यात्रा के दौरान, उस स्मारक के दर्शन का सौभाग्य मिला जहां 1943 में नेताजी तथा उनकी आज़ाद हिंद फौज ने भारत भूमि पर पहली बार आजादी का झंडा फहराया था.

उन्होंने कहा कि हमारी आजादी महान बलिदानों की विरासत है. अपने स्वाधीनता आंदोलन के आदर्शों का सम्मान न केवल हमारा संवैधानिक कर्तव्य है बल्कि नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जैसे राष्ट्र नायकों के प्रति हमारी कृतज्ञ श्रद्धांजलि भी है. 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button