Sports

IND-ENG टेस्ट सीरीजः पांचों टेस्ट नहीं खेल सकते सभी तेज गेंदबाज-स्टुअर्ट ब्रॉड

Birmingham: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा है कि भारत के खिलाफ एक अगस्त से शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में उन्हें और जेम्स एंडरसन को रोटेट किया जायेगा, ताकि उनके कार्यभार में संतुलन बनाया जा सके.

इसे भी पढ़ेंः पहाड़ी मंदिर : रांची प्रशासन और समिति के बीच हुआ विवाद, उर्मिला कंस्ट्रक्शन ने उठाया फायदा

तेज गेंदबाजों का होगा रोटेशन

ram janam hospital
Catalyst IAS

ब्रॉड ने कहा कि यह टास , पिचों और कार्यभार पर निर्भर करेगा. यदि 250 ओवरों के दो टेस्ट हो गए तो यह सोचना मुश्किल है कि सभी तेज गेंदबाज छह सप्ताह में पांचों टेस्ट खेलेंगे. उन्होंने कहा कि जब पिच सपाट हो और स्पिनर काफी काम कर रहे हो तो आपको इतनी गेंदबाजी नहीं करनी पड़ती लेकिन जब गेंद रिवर्स स्विंग ले रही हो और पिच हरी भरी हो तो कई बार आपका काम कई गुना बढ़ जाता है. उन्होंने यह भी कहा कि टीम प्रबंधन पहले ही सूचित कर चुका है कि तेज गेंदबाजों का रोटेशन किया जायेगा.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंः दर्दनाकः आर्थिक तंगी ने ली एक परिवार की जान ! रांची में परिवार के सात लोगों ने की खुदकुशी

सभी को मिलना चाहिए मौका

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ब्रॉड ने कहा कि पहले ही इस पर चर्चा हो चुकी है कि किसी टेस्ट मैच से बाहर रहना पड़े तो दुखी होने की जरूरत नहीं है .यह कोई निजी हमला या बाहर करना नहीं है बल्कि प्रबंधन यह सुनिश्चित करना चाहता है कि सभी को बराबर मौका मिले.

उन्होंने कहा कि वह कभी खराब फार्म की वजह से बाहर नहीं होना चाहते. उन्होंने कहा कि मैं ऐसे मुकाम पर नहीं पहुंचना चाहता, जब मुझसे कहा जाये कि वापस लौटकर काउंटी क्रिकेट खेलो. आपके बाहर होने पर नये गेंदबाज आते हैं. आप टीम में रहते हैं तो ईकाई का हिस्सा रहते है. पांच टेस्ट मैचों में बदलाव तो किये जायेंगे लेकिन हम इसे समझते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button