JharkhandLead NewsRanchi

सड़क नाली निर्माण की बढ़ गयी राशि फिर भी घटिया निर्माण : मेयर

Ranchi : मंगलवार को मेयर डॉ आशा लकड़ा ने सहजानंद सरस्वती चौक हरमू के समीप पूर्व महाधिवक्ता अजीत कुमार के आवास के समक्ष रांची नगर नगर निगम की ओर से कराये जा रहे सड़क व नाली निर्माण कार्य का निरीक्षण किया. मेयर ने बताया कि सड़क व नाली निर्माण कार्य के लिए एक करोड़ 13 लाख 45 हजार 532 रुपये की राशि आवंटित की गयी थी, जबकि अभियंत्रण शाखा ने इस कार्य के लिए 1.25 करोड़ रुपये की प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान की है. इतना ही नहीं सड़क व नाली का निर्माण गुणवत्तापूर्ण नहीं कराया गया है. कई जगहों पर नवनिर्मित सड़क धंस रही है. एकरारनामा के तहत संवेदक ने निर्माण नहीं कराया है.

इसे भी पढ़ेंः   होटल केनेलाइट के निदेशक मिथिलेश झा की रायगढ़ में सड़क हादसे में मौत

नाली निर्माण से पूर्व कचरा की सफाई नहीं करायी गयी. कचरा निकाले बिना नाली के ऊपरी हिस्से पर स्लैब की ढलाई कर दी गयी है, जो कि पूरी तरह से घटिया है. इंजीनियरिंग शाखा के अधिकारी काम नहीं कर रहे, सिर्फ कुर्सी गरम कर रहे हैं. मौके पर उप नगर आयुक्त रजनीश कुमार, कार्यपालक अभियंता गौतम सिन्हा, सहायक अभियंता चंदन कुमार, जूनियर इंजीनियर अब्बास व वार्ड-25 के पार्षद अर्जुन राम उपस्थित थे.

फील्ड विजिट करते तो ऐसा नहीं होता

मेयर ने कहा कि पिछले कई महीनों से उन्होंने इंजीनियरिंग शाखा के अधिकारियों की कार्यशैली पर सवाल किया. अधिकारियों के गैर जिम्मेदार होने के कारण ही आज सड़क व नाली का निर्माण घटिया स्तर का किया गया है. यदि इंजीनियरिंग शाखा के अधिकारी समय-समय पर फील्ड विजिट कर संबंधित कार्यों की मॉनिटरिंग करते तो गुणवत्ता की अनदेखी कर इस प्रकार का घटिया निर्माण नहीं होता.

इसे भी पढ़ेंः  गोपालगंज में नवनिर्वाचित मुखिया की गोली मारकर हत्या, घर के सामने अपराधियों ने वारदात को दिया अंजाम

उन्होंने मौके पर उपस्थित रांची नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि संबंधित सड़क व नाली का निर्माण गुणवत्ता व निर्धारित मानक के अनुरूप करायें. यदि संबंधित सड़क व नाली का निर्माण गुणवत्ता व निर्धारित मानक के अनुरूप नहीं कराया गया तो संबंधित कार्यपालक अभियंता, सहायक अभियंता, कनीय अभियंता व संवेदक पर उचित कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने यह भी कहा कि जल्द ही नगर आयुक्त को पत्र लिख कर इस कार्य से संबंधित अधिकारियों व संवेदक पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया जायेगा.

Advt

Related Articles

Back to top button