न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मानसून को देखते हुए नगर निगम कर्मियों की छुट्टियां कैंसिल, नगर आयुक्त ने जारी किया आदेश

मानसून के दौरान सफाई, जलजमाव और वर्तमान में जलापूर्ति की किल्लत को देखते हुए लिया गया निर्णय

41

Ranchi : मानसून के दौरान शहर की सफाई, जलजमाव तथा जलापूर्ति की किल्लत को ध्यान में रखते हुए रांची नगर निगम के सभी शाखा पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों की सभी तरह की छुट्टी कैंसिल कर दी गयी है. यह आदेश नगर आयुक्त द्वारा जारी किया गया है. आदेश में कहा गया है कि किसी भी तरह का स्वीकृत अवकाश विशेष परिस्थिति में ही मान्य होगा. अवकाश की स्वीकृति स्थापना शाखा के प्रभारी पदाधिकारी सह-उपनगर आयुक्त की अनुशंसा पर अपर नगर आयुक्त द्वारा प्रदान की जायेगी. आदेश नहीं मानने वाले कर्मियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की भी बात कही गयी है.

इसे भी पढ़ें – दर्द-ए-पारा शिक्षक: परिवार में तीन शिक्षक, सिर पर दो लाख का कर्ज-कई महीनों से घर में नहीं पकी दाल

 समस्याओं से जूझ रहे हैं राजधानीवासी

मालूम हो कि इन दिनों राजधानीवासी कई तरह की समस्याओं से जूझ रहे हैं. इसमें विभिन्न वार्डों के इलाकों में पानी की किल्लत और डोर-डू-डोर कचरा नहीं उठने की समस्या सबसे प्रमुख है. कई इलाकों में पसरा कचरा अभी तक उठाया नहीं गया है. निगम क्षेत्र में डोर टू डोर कलेक्शन लगभग बंद हो गया है. इसके बंद होने से कई इलाकों में जहां एक या दो गार्बेज प्वाइंट होता है, वह संख्या अब 10 के करीब पहुंचा गयी है.

उठाव नहीं होने पर बरसात के दिनों में यह कचरा महामारी का रूप ले सकता है. दूसरी और पानी के लिए कई वार्डो में हाहाकार मचा हुआ है. सभी वार्डों में टैंकर से पानी पहुंचाना संभव नहीं हो पा रहा है. कई इलाकों में एचवाईडीटी फेल होने भी खबर है.

इसे भी पढ़ें – बालू की लूट : राज्य को दूसरा सबसे ज्यादा राजस्व देने वाले खनन विभाग में किसने दी है लूट की छूट ! -3

Related Posts

भाजपा शासनकाल में एक भी उद्योग नहीं लगा, नौकरी के लिए दर दर भटक रहे हैं युवा : अरुप चटर्जी

चिरकुंडा स्थित यंग स्टार क्लब परिसर में रविवार को अलग मासस और युवा मोर्चा का मिलन समारोह हुआ.

SMILE

सचिव के निर्देश से शुरू हुआ विशेष अभियान

सफाई और जलापूर्ति सेवा के लिए नगर विकास सचिव अजय कुमार सिंह ने सोमवार को निगम के साथ एक समीक्षा बैठक की थी. उन्होंने निर्देश दिया था कि राजधानी की सफाई और जलापूर्ति व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए निगम के अधिकारी रोजाना तीन वार्डों के चक्कर लगायेंगे. यह निरीक्षण रोजाना सुबह 7 बजे से 9 बजे तक होगा.

इस दौरान जिन इलाकों में कचरा उठाव नहीं हो रहा है, जहां पानी की समस्या दिखती है, उनका मौके पर ही समाधान करने का प्रयास किया जायेगा. काम की पूरी जानकारी प्रतिदिन नगर आयुक्त को दी जायेगी.

छुट्टी लेने पर होगी अनुशासनिक कार्यवाही

नये निर्देश में कहा गया है कि निगम कर्मियों का किसी भी शाखा के प्रभारी के द्वारा स्वीकृत अवकाश मान्य नहीं होगा. साथ ही अनधिकृत रूप से कार्य से अनुपस्थित कर्मियों के विरुद्ध निगम अपने स्तर पर अनुशासनिक कार्यवाही करेगा. आदेश की अवमानना की स्थिति में एकाउंट शाखा के द्वारा संबंधित कर्मियों के वेतन रोकने का भी निर्देश नगर आयुक्त ने दिया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: