न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शाह ब्रदर्स मामले में CM के प्रधान सचिव सुनील बर्णवाल और दो IAS के खिलाफ ACB में शिकायतवाद

2,612

Ranchi: तत्कालीन खनन सचिव सुनील बर्णवाल, खनन कमिश्नर अबू बकर सिद्दिकी, तत्कालीन पश्चिमी सिंहभूम के डीसी शांतनु अग्रहरी, डीएफओ सारंडा सतीश चंद्र राय, शाह ब्रदर्स में पार्टनर राजकुमार शाह, श्याम सुंदर शाह और कई अन्य पर एसीबी में शिकायतवाद दर्ज कराया गया है. शिकायतवाद पंकज कुमार यादव ने दर्ज कराया है. बताया जा रहा है कि ओड़िशा हाइकोर्ट के आदेश जिसमें इस बात का उल्लेख है कि जिस कंपनी की माइनिंग लीज की मियाद खत्म हो चुकी है और कंपनी ने पूरी तरह से खनन नहीं किया है, तो उसे दोबारा से लीज मिल सकती है. इसके लिए कंपनी को पर्यावरण क्लीयरेंस, एनपीवी (net product value), फोरेंस्ट क्लीयरेंस और एरियर विभाग को जमा करना पड़ेगा. बताते चलें कि एनपीवी के तौर पर हर 323 एकड़ पर कंपनी को नौ लाख रुपया जमा करना था. इस फैसले के बाद झारखंड की कई कंपनियों ने आदेश के मुताबिक चारों शर्त मानी और माइनिंग लीज हासिल कर ली.

शिकायतकर्ता पंकज कुमार यादव

शाह ब्रदर्स बिना शर्त पूरा करते हुए ही करता रहा खनन

पंकज कुमार यादव ने अपनी शिकायतवाद में कहा है कि शाह ब्रदर्स ने अपनी माइनिंग लीज हासिल करने के लिए ओड़िशा हाइकोर्ट की शर्तों को नहीं माना और हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. लेकिन हाइकोर्ट की तरफ से शाह ब्रदर्स को पहले सभी शर्तों को मानने की बात कही गयी और केस खारिज हो गया. इस बीच शाह ब्रदर्स ने अधिकारियों की मिलीभगत से रोजाना खनन का काम जारी रखा. एक अनुमान के तहत रोजाना 1000 करोड़ रुपए का खनन शाह ब्रदर्स कर रहा था. उस वक्त खनन विभाग के सचिव सुनील बर्णवाल थे और माइंस कमिश्नर अबु बकर सिद्दिकी. पश्चिमी सिंहभूम के डीसी शांतनु अग्रहरी और डीएफओ सतीश चंद्र थे. पंकज कुमार यादव ने मामले में इन सभी अधिकारियों के खिलाफ और शाह ब्रदर्स के कुछ लोगों के खिलाफ शिकायतवाद दर्ज कराया है. शिकायतवाद दर्ज होने के बाद एसीबी पहले पीई केस दर्ज करेगा और अगर मामले में सच्चाई दिखी तो बाद में एफआइआर दर्ज होगा.

इसे भी पढ़ें – NEWS WING IMPACT: गोड्डा अनाज घोटालाः मंत्री और सचिव जिले की रिपोर्ट से असहमत, कहा- फिर से एक-एक की जांच करें

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: