JharkhandRanchi

जीपीएस अनिवार्य करने के विरोध में निगम के 150 ट्रैक्टर चालक  हड़ताल पर, चरमरा सकती है राजधानी की सफाई व्यवस्था

विज्ञापन

Ranchi :  रांची नगर निगम के अंतर्गत झिरी डम्पिंग यार्ड में कचरा गिराने वाले 150 के करीब ट्रैक्टर चालक हड़ताल पर चले गये है. इससे राजधानी की सफाई व्यवस्था एक बार फिर चरमरा गयी है. हालांकि नगर आयुक्त ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए संबंधित चालकों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. बरसात के मौसम को देखते हुए सफाई व्यवस्था नहीं होने से निगम के समक्ष एक बड़ी परेशानी खड़ी होती दिख रही है.

जीपीएस नहीं लगाना चाहते ट्रैक्टर चालक

निगम से मिली सूचना के मुताबिक कचरा उठाने वाले कई ट्रैक्टर चालक अपने वाहन पर जीपीएस नहीं लगाना चाहते हैं. ऐसा करने से निगम चालक/मालिकों को ट्रैक कर सकता है. हड़ताल में अधिकतर निजी ट्रैक्टर संचालक शामिल है. निगम ने इन्हें निर्देश दिया है कि अगले 5 दिनों के अंदर वे अपने ट्रैक्टर पर जीपीएस लगा दें, अन्यथा उन्हें निगम द्वारा ईंधन नही दिया जायेगा. इस आदेश के बाद  निजी मालिकों द्वारा अन्य चालकों को धमकी देकर सभी वाहनों को झिरी यार्ड पर रोक दिया गया है.

जीपीएस का काम देख रहे श्रीकांत ने बताया कि निगम के ट्रैक्टरों पर तो जीपीएस की सुविधा है, लेकिन निजी ट्रैक्टर मालिकों ने अभी तक जीपीएस नहीं लगाया है. इसके लिए निगम द्वारा एक एजेंसी ऑटोग्रेड इंटरनेशनल को चयनित किया गया है. सभी ट्रैक्टर चालकों को निर्देश है कि वे एजेंसी से जीपीएस लगा लें. साथ ही इन चालकों की वेतन वृद्धि भी एक प्रमुख मामला है.

इसे भी पढ़ें – तालाब सौंदर्यीकरण में कंक्रीट की चहारदीवारी के निर्माण पर पूरी तरह से रोक

 अवैध तरीके से  कचरा वाहनों को रोक दिया गया

निगम से मिली जानकारी के मुताबिक निगम क्षेत्र से कचरा उठाकर ट्रैक्टर चालक झिरी यार्ड में गिराते हैं. इसमें निगम के स्वामित्व वाले ट्रैक्टरों  के अलावा कई निजी ट्रैक्टर चालकों  (भाड़े पर) की मदद ली जाती है. कतिपय निजी वाहन मालिकों के द्वारा अवैध तरीके से निगम पर दबाव बनाने के लिए कचरा वाहनों को रोक दिया गया है. जानकारी के अनुसार उन मालिकों द्वारा निगम के स्वामित्व वाले वाहनों को भी क्षतिग्रस्त करने की संभावना बन गयी है. इससे पूरे निगम की सफाई व्यवस्था एकबार फिर चरमरा सकती है.

कार्रवाई का दिया गया निर्देश

नगर आयुक्त मनोज कुमार ने वैसे ट्रैक्टर संचालकों  को चिन्हित कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है, जो हड़ताल पर है.  इन ट्रैक्टर मालिकों में  संजय साव, संदीप, पवन, सीताराम, धुपेंद्र, राजकमल, राजकुमार, छोटन साव, बालेश्वर, अमललाल, खेलमाल साहु, राजन, राजू, शंकर, संजय, अऩिल, विमल, नंदकिशोर, झरिया, राखो, सिकेंद्र और लुर्क शामिल है. चिन्हित किये गये ऐसे मालिकों को निगम द्वारा ईंधन नहीं देने का निर्देश नगर आयुक्त ने दिया है.

इसे भी पढ़ें – क्या आपके अखबारों ने 1.70 लाख करोड़ के आंकड़ों के अंतर की खबर बतायी, नहीं तो यहां पढ़ें

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close