Lead NewsNational

मुंबई की निर्भया के मामले में सीएम ठाकरे ने दिया फास्टट्रैक कोर्ट में केस चलाने का आदेश

साकीनाका में बलात्कार और निजी अंगों में रॉड डालने से महिला की हो गयी है मौत

Mumbai : मुंबई के उपनगरीय इलाके साकीनाका में बलात्कार और निजी अंगों में लोहे की छड़ डालने की वीभत्सता का शिकार बनी 32 महिला ने यहां नगरपालिका के एक अस्पताल में इलाज के दौरान शनिवार तड़के दम तोड़ दिया.

मुंबई पुलिस ने कहा कि 32 वर्षीय महिला से कथित बलात्कार के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. साकीनाका क्षेत्र के खैरानी रोड पर बीती रात महिला बेहोश पड़ी मिली थी. कोर्ट ने आरोपी को 21 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

इसे भी पढ़ें: IPL 2021: सनराइजर्स और पंजाब को बड़ा झटका, दो विस्फोटक बल्लेबाजों ने नाम लिया वापस

advt

जांच में तेजी लाने का भी निर्देश

इस मामले में मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे ने (मुंबई रेप) घटना की पूरी जानकारी ली है और पुलिस कमिश्नर से बात की है. उन्होंने कहा कि मामले को फास्ट ट्रैक पर लिया जाएगा और पीड़िता को न्याय मिलेगा. उन्होंने जांच में तेजी लाने का भी निर्देश दिया.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई के साकीनाका में एक महिला के साथ बलात्कार और हत्या को शनिवार को “मानवता पर धब्बा” करार दिया और मामले में त्वरित सुनवाई का वादा किया. ठाकरे ने कहा कि अपराधी को कड़ी सज़ा दिलाई जाएगी.

adv

इसे भी पढ़ें: महज 78 CDPO के भरोसे राज्य में चल रही बच्चों के कुपोषण के खिलाफ लड़ाई की मुहिम, बढ़ता खतरा

पीड़िता को न्याय मिलेगा

ठाकरे ने एक बयान में कहा, ‘मामले की सुनवाई तेजी से होगी और आज दम तोड़ने वाली पीड़िता को न्याय मिलेगा.’ मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्य के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल और मुंबई के पुलिस आयुक्त हेमंत नागराले से मामले पर चर्चा की है. उन्होंने कहा, ‘मैंने अधिकारियों को मामले की जांच में तेजी लाने का निर्देश दिया है.’

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का बड़ा बयान, कहा- मैनचेस्टर टेस्ट पैसे और IPL के कारण हुआ रद्द

पीड़िता की मुंबई के अस्पताल में हुई मौत

पुलिस ने बताया कि महिला के निजी अंगों में गंभीर चोटें आईं थी और हादसे में उसका बहुत खून बह गया था. एक अधिकारी ने बताया कि वह शुक्रवार तड़के से राजावाड़ी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही थी. उन्होंने बताया कि महिला से बलात्कार के बाद और छड़ से निर्ममता से उसपर हमला करने के बाद आरोपी ने उसपर चाकू से भी वार किया.

अधिकारी ने बताया कि यह घटना शुक्रवार तड़के सामने आयी थी जब पुलिस को साकीनाका में खैरानी रोड पर एक शख्स के एक महिला पर हमला करने के बारे में फोन आया था. उन्होंने बताया कि पुलिस मौके पर पहुंची जहां उसने महिला को खून से सना हुआ पाया जिसके बाद उसे राजावाड़ी अस्पताल में भर्ती कराया गया.

इसे भी पढ़ें :लाखों में बिक रही बड़े-बड़े छेद वाली ये हूडी जैकेट, कारण औऱ कीमत जानकर हो जाएंगे हैरान

टेंपो के भीतर महिला से बलात्कार किया गया

अधिकारी ने कहा, ‘जांच के दौरान, सामने आया कि सड़क किनारे खड़े एक टेंपो के भीतर महिला से बलात्कार किया गया और उसके शरीर एवं निजी अंगों पर लोहे की छड़ से निर्ममता से वार किया गया.’ साथ ही बताया कि पुलिस को टैंपो में खून के निशान भी मिले.

उन्होंने बताया कि इलाके की सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर पुलिस ने एक संदिग्ध की पहचान की है जो वीडियो में टैंपो से बाहर निकलता दिख रहा है. पुलिस ने बाद में मोहन चौहान (45) को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया.

इसे भी पढ़ें :Big News :  ऱांची के बड़े दवा कारोबारी अश्विनी राजगढ़िया ने की सुसाइड की कोशिश

भाजपा ने मृत्यु दंड की मांग की

भाजपा की प्रदेश इकाई ने आरोपी के लिए मृत्यु दंड की मांग शनिवार को की और महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर शिवसेना नीत महा विकास आघाड़ी सरकार को घेरा. विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ”साकीनाका महिला दुष्कर्म मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक अदालत में होनी चाहिये ताकि आरोपी को जल्द से जल्द सजा मिल सके. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री (उद्धव ठाकरे) को बंबई उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश से मुलाकात कर उनसे इस मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक अदालत में कराने का आग्रह करना चाहिए.”

उन्होंने कहा, ”मुझे पता है कि सजा सुनाने का काम न्यायपालिका का है, लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि साकीनाका दुष्कर्म मामले के आरोपी को मौत की सजा मिलनी चाहिए.”

उन्होंने कहा कि साकीनाका की यह घटना 2012 के ‘निर्भया’ दुष्कर्म मामले की याद दिलाती है. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं पर हमला चिंता का विषय है.

इसे भी पढ़ें :US Open 2021: राजीव राम और सैलिसबरी ने यूएस ओपन मेन्स डबल का खिताब जीता

राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया

राज्य विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दारेकर ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान इस घटना के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि इस घटना की पूरी जिम्मेदारी राज्य सरकार पर है, क्योंकि अपराधियों में कानून का थोड़ा सा भी डर रह नहीं गया है.

महिला किस तरह के दर्द से गुजरी है, यह जानना भयावह है और वह पीड़िता की मौत से बेहद दुखी हैं. राज्य सरकार को कार्रवाई करने की जरूरत है.

इसे भी पढ़ें :IPL 2021: दुबई पहुंचते ही RCB का धमाकेदार बल्लेबाज बन गया ‘लंगूर’, जानें क्या है मामला

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: