DhanbadJharkhand

साइबर क्राइम के मामले में मुंबई पुलिस का बरोरा में छापा, एक को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी

Dhanbad: मुंबई पुलिस ने धनबाद के बरोरा थाना क्षेत्र के लेढ़ीडूमर गांव में शनिवार की देर रात छापा मारा. छापेमारी के दौरान पुलिस गांव के विक्की सिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. यह कार्रवाई मुंबई में घटित एक साइबर अपराध के सिलसिले में हुई. मुंबई पुलिस ने धनबाद पुलिस के सहयोग से छापेमारी की. छापेमारी के दौरान धनबाद साइबर थाना के डीएसपी सुमित लकड़ा भी मौजूद थे. हिरासत में लेने के बाद पुलिस विक्की को गुप्त स्थान पर रखकर पूछताछ कर रही है. हांलाकि पुलिस फिलहाल कुछ भी बताने से इनकार कर रही है.

वहीं इस बारे में धनबाद पुलिस का कहना है कि मोबाइल टावर लोकेशन के आधार पर विक्की को पकड़ा गया और उससे पूछताछ जारी है. साथ ही बताया कि  मुंबई में हुए साइबर अपराध के सिलसिले में गहन पूछताछ चल रही है. दरअसल  मुंबई पुलिस को साइबर अपराध के मामले में विक्की के खिलाफ पुख्ता सबूत मिले हैं. जिसके आधार पर मुंबई  पुलिस विक्की को गिरफ्तार करने धनबाद पहुंची और धनबाद पुलिस के सहयोग से छापेमारी कर विक्की को धर दबोचा.

इसे भी पढ़ें – अपराधी संदीप थापा और बिट्टू मिश्रा की दोस्ती करायी एक पुलिस अफसर ने, खुद भी जुटे जमीन के कारोबार में

Catalyst IAS
ram janam hospital

साइबर क्राइम का हब बनता जा रहा धनबाद

The Royal’s
Sanjeevani

पिछले एक साल के दौरान धनबाद पुलिस ने दो दर्जन से अधिक साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है. वहीं दिल्ली, मुबंई समेत देश के कई शहरों की पुलिस साइबर अपराधियों की तलाश में धनबाद पहुंची और यहां से 12 से ज्यादा साइबर अपराधियों को धनबाद पुलिस की मदद से धर दबोचा. अक्तूबर 2018 में धनबाद एसएसपी मनोज रत्न चौथे ने पत्रकार वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए कहा था कि साइबर क्राइम की राजधानी बन चुके जामताड़ा के बाद धनबाद साइबर अपराधियों का हब बनता जा रहा है. साइबर गिरोह में इंजीनियर से लेकर कंप्यूटर एक्सपर्ट तक और  बिजली विभाग में कार्यरत कर्मी भी शामिल हैं.

बैंककर्मी बनकर करते हैं ठगी

साथ ही कहा था कि कई साइबर अपराधी बैंक मैनेजर बनकर भा लोगों से ठगी कर लेते हैं. साइबर गिरोह के सभी सदस्य बोलने में काफी एक्सपर्ट होते हैं. इन लोगों ने कुछ बैंकिंग टर्म भी सीख लिए हैं और बैंक अधिकारी की तरह ही बातें भी करते हैं. एटीएम बदलकर रुपये की अवैध निकासी करने की घटनाएं तो कई बार सुनने को मिली हैं, पर एटीएम की क्लोनिंग कर रुपये निकालने की घटनाएं भी धनबाद में सामने आ चुकी हैं.

पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर तेतुलमारी से राहुल कुमार नाम के साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया था. अब जामताडा के करमाटांड के बाद धनबाद जिले के नक्सल प्रभावित टुंडी प्रखंड के मनियाडीह थाना क्षेत्र का चरकखुर्द गांव देशभर में साइबर अपराधियों के गांव के तौर पर जाना जा रहा है. पुलिस की मानें तो कई साइबर अपराधियों के तार इस गांव से जुड़े हुए हैं. वहीं बाघमारा विधानसभा क्षेत्र के इलाके के बड़े पैमाने पर साइबर क्राइम से जुड़े बताये जाते हैं.

इसे भी पढ़ें – झारखंड सरकार बांटेगी 35 लाख बच्चों को स्कूल बैग, क्लास के मुताबिक होगा कलर

Related Articles

Back to top button