NEWS

सामना के लेख में बॉलीवुड पर निशाना, लिखा- मुंबई के अपमान पर सितारे गर्दन झुका लेते हैं

Mumbai :  कंगना रनौत और शिवसेना के बीच चल रहे विवाद के बीच शिवसेना के मुखपत्र सामना में एक लेख आया है. सामना में छपे इस लेख में बॉलीवुड कलाकारों की चुप्पी पर तंज कसा गया है. इसमें कंगना रनौत पर जमकर निशाना साधा गया है. लेख में कहा गया है कि कंगना ने मुंबई पुलिस की तुलना बाबर से की, शहर को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर बताया, लेकिन फिर भी बॉलीवुड का एक वर्ग इस पर चुप्पी साधे बैठा रहा. उस वर्ग ने ये एक बार भी स्पष्ट नहीं किया कि कंगना के विचार पूरे बॉलीवुड के विचार नहीं है.

इसे भी पढ़ें : दिल्ली दंगों की चार्जशीट में आया सीताराम येचुरी का नाम, कहा यहीं है भाजपा का असली चरित्र

advt

अक्षय कुमार सहित बड़े सितारों की चुप्पी पर सवाल

लेख में अभिनेता अक्षय कुमार के बारे में कहा गया है कि अक्षय को मुंबई ने काफी कुछ दिया है. उन्होंने इस सपनों के शहर में अपार सफलता पाई है, लेकिन फिर भी उन्होंने कंगना के खिलाफ एक शब्द बोलना उचित नहीं समझा. मुंबई का अपमान होता रहा लेकिन उन्होंने इसका विरोध नहीं किया. पत्र में लिखा गया है कि संपूर्ण नहीं, कम-से-कम आधे हिंदी फिल्म जगत को तो मुंबई के अपमान के विरोध में आगे आना ही चाहिए था. कंगना का मत पूरे फिल्म जगत का मत नहीं है,. अक्षय कुमार जैसे बड़े कलाकारों को सामने आना ही चाहिए था.

इसे भी पढ़ें : गृहमंत्री अमित शाह की तबियत फिर बिगड़ी, एम्स में हुए भर्ती

मुंबई के अपमान पर सिर झुकाकर बैठ जाते हैं सितारे

लेख में कहा गया है कि जब भी मुंबई का अपमान होता है तब ये सितारे गर्दन झुका बैठ जाते हैं. आखिर क्यों वे उस अपमान के बारे में एक शब्द नहीं बोलतें ? दुनियाभर के रईसों के घर मुंबई में हैं. मुंबई का जब अपमान होता है ये सब गर्दन झुकाकर बैठ जाते हैं. मुंबई का महत्व सिर्फ दोहन व पैसा कमाने के लिए ही है. फिर मुंबई पर कोई प्रतिदिन बलात्कार करे तो भी चलेगा. लेकिन इन सभी को यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि ‘ठाकरे’ के हाथ में महाराष्ट्र की कमान है. इसलिए सड़क पर उतरकर भूमिपुत्रों के स्वाभिमान के लिए राड़ा करने की जरूरत नहीं है.

इसे भी पढ़ें : CoronaUpdate: 47 लाख पार हुआ आंकड़ा, 24 घंटे में 94 हजार से ज्यादा नये केस

 

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button