Education & CareerJharkhandRanchi

आरयू में छात्रसंघ चुनाव की खातिर स्थगित कर दी गयीं परीक्षाएं, वोटर लिस्ट से गायब हुए शोधार्थी छात्र

Ranchi :  रांची विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव की घोषणा होते ही विश्वविद्यालय के कैंपस में चुनाव प्रक्रिया आंरभ हो गयी है. तीन दिसंबर को छात्रसंघ चुनाव विश्वविद्यालय की ओर से कराया जाना है. इसके लिए विश्वविद्यालय की ओर से चुनाव से संबंधित वोटर लिस्ट छात्रों के लिए जारी कर दी गयी है. वोटर लिस्ट के माध्यम से आरयू समेत अंगीभूत कॉलेजों के कुल 1,14,509 विद्यार्थी मतदान करेंगे. लेकिन, सबसे कमाल की बात है कि इस मतदान प्रक्रिया से पीएचडी एवं एमफिल के विद्यार्थी दूर रहेंगे, क्योंकि आरयू ने जो वोटर लिस्ट जारी की है, उसमें एमफिल और पीएचडी शोधार्थियों को शामिल नहीं किया गया है. आरयू की वोटर लिस्ट में कुल 1,14,509 मतदाता में से 8289 पीजी के छात्र हैं एवं 1,05,052 मतदाता आरयू के अंगीभूत कॉलेजों के विद्यार्थी हैं. वहीं, आरयू के अंतर्गत आनेवाले कई कॉलेजों में सेमेस्टर परीक्षाएं चल रही थीं, लेकिन छात्रसंघ चुनाव की तिथि की घोषणा के बाद इन कॉलेजों ने परीक्षा स्थगित करने संबंधि नोटिस जारी कर दिया है. मारवाड़ी कॉलेज, रांची वीमेंस कॉलेज, डोरंडा कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव की खातिर परीक्षाएं स्थगित कर दी गयी हैं.

आनन-फानन में आरयू ने की छात्रसंघ चुनाव की घोषणा

आरयू में छात्रसंघ चुनाव की तिथि की घोषणा आनन-फानन में डीएसडब्ल्यू पीके वार्मा द्वारा लिया गया कदम है. दरअसल, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव की तिथि की घोषणा होते ही आरयू के अधिकारियों के कान खड़े हो गये और आनन-फानन में डीएसडब्ल्यू द्वारा चुनाव की तिथि की घोषणा कर दी गयी. विश्वविद्यालय प्रशासन ने कॉलेजों से विद्यार्थियों की सेमेस्टर परीक्षा की सुध तक नहीं ली और न ही कॉलेज के प्राचार्यों से विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने चुनाव से संबंधित तिथियों की घोषण पर विचार-विमर्श किया. लिंगदोह कमिटी के अनुसार आरयू किसी ऑनगोइंग परीक्षा को बाधित कर चुनाव नहीं कर सकता है. कमिटी के अनुसार एक विभाग के विद्यार्थी अलग विभाग में वोटिंग करेंगे, लेकिन इस पर आरयू के पीजी विभाग में मतदान विद्यार्थी अपने ही विभाग में करेंगे.

क्या कहते हैं डीएसडब्ल्यू डॉ पीके वर्मा

आरयू के डीएसडब्ल्यू डॉ पीके वर्मा ने कहा कि शोधार्थियों की सूची उनके निबंधन पर तैयार करनी थी, लेकिन कुलसचिव के यहां से इन विद्यार्थियों की सूची पूरी तरह से उपलब्ध नहीं हो पायी. लेकिन, एमफिल के विद्यार्थी आरयू के वोटर हैं. उनकी सूची आरयू जारी करेगा.

इसे भी पढ़ें- शहरों में राजस्व वसूली के लिए अब ज्यूडको लगायेगी जोर

इसे भी पढ़ें- लिट्टीपाड़ा में लटकी, सिल्ली में सरेंडर और गोमिया में गर्त में जा चुकी बीजेपी के लिए कोलेबिरा की राह…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close