न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड में पुलिस को मिले कुछ अहम सुराग, जल्द हो सकती है आरोपी की गिरफ्तारी

216

Ranchi : पंडरा कृषि बाजार समिति में चावल का व्यवसाय करनेवाले व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा की शुक्रवार की रात गोली मारकर की गयी हत्या के मामले में रांची पुलिस को कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं. बताया जा रहा है मिले अहम सुराग के आधार पर रांची पुलिस जल्द ही नरेंद्र सिंह होरा के हत्यारों को गिरफ्तार कर सकती है.

सीएम ने डीजीपी और गृह सचिव को बुलाकर ली मामले की जानकारी

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड मामले में गंभीरता दिखाते हुए गृह सचिव एसकेजी रहाटे और डीजीपी डीके पांडेय को बुलाकर मामले की जानकारी ली. रघुवर दास ने मृतक नरेंद्र सिंह होरा के बेटे से बातकर आश्वासन दिया है कि किसी भी हाल में अपराधियों को बख्शा नहीं जायेगा.

इसे भी पढ़ें- नरेंद्र सिंह होरा की हत्या के विरोध में सिख समुदाय के लोगों ने सुजाता चौक किया जाम

मामले की जांच में लगे हैं पुलिस के वरीय अधिकारी

नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने के लिए आईजी अभियान, रांची डीआईजी और एसएसपी खुद लगे हुए हैं. पुलिस के वरीय अधिकारी घटना के बाद काफी देर रात तक घटनास्थल पर रहे और आस-पास के लोगों से पूछताछ भी करते रहे. मिली जानकारी के अनुसार मामले की जांच के दौरान पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं.

सीसीटीवी फुटेज में भागते हुए दिखाई पड़ रहे हैं अपराधी

नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने के लिए घटनास्थल के आस-पास और जिस रास्ते से अपराधी फरार हुए थे, वहां लगे सीसीटीवी कैमरों कीफुटेज पुलिस ने हासिल कर ली है. बताया जा रहा है कि एक सीसीटीवी फुटेज में अपराधी भागते हुए दिखाई पड़ रहे हैं, हालांकि इस फुटेज में अपराधियों का सिर्फ पीछे का भाग दिखाई दे रहा है, जिसके चलते पुलिस को अपराधियों की पहचान में परेशानी हो रही है. हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने के लिए सीआईडी और स्पेशल ब्रांच के कई अधिकारी भी लगे हुए हैं, वे लगातार रांची पुलिस का सहयोग कर रहे हैं.

palamu_12

इसे भी पढ़ें- होरा मर्डर केसः CM को बुलाने की मांग पर अड़े थे लोग, SSP के आश्वासन के बाद हटाया जाम

हत्या की वजह का पता नहीं चल पाया है

नरेंद्र सिंह होरा की हत्या की वजह का साफ पता नहीं चल पाया है. उनकी हत्या लूटने के लिए की गयी थी या हत्या करने की पहले से कोई साजिश थी. पुलिस अभी तक हत्या की वजह नहीं जान सकी है. जिस तरह से नरेंद्र सिंह होरा की हत्या की गयी और जिस तरह से सीने में तीन गोली मारी गयी, उसे देखकर यही लगता है कि अपराधियों का इरादा सिर्फ लूटपाट करने का नहीं था. बता दें कि शुक्रवार की रात 9.20 बजे रांची के मेन रोड स्थित रोस्पा टावर के पास पीपी कंपाउंड निवासी 55 वर्षीय नरेंद्र सिंह होरा की  गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. नरेंद्र सिंह चावल का व्यवसाय करते थे और पंडरा में होलसेल की दुकान चलाते थे.

इसे भी पढ़ें- रांची : मेन रोड में रोस्पा टावर के पास बाइक सवार अपराधियों ने एक व्यक्ति को मारी गोली, हॉस्पिटल में…

हत्या के विरोध में सिख समुदाय ने की थी सड़क जाम

नरेंद्र सिंह होरा की हत्या के विरोध में और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर सिख समुदाय और व्यवसायी वर्ग के लोगों ने शनिवार की सुबह सुजाता चौक के पास सड़क जाम कर दी थी. लगभग पांच घंटे के बाद एसएसपी अनीश गुप्ता द्वारा आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिये जाने के बाद लोग माने और जाम हटा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: