Crime News

झारखंड में बच्चा चोरी की अफवाह पर हो रही है लोगों की पिटाई, पिछले पांच दिनों में हुई सात लोगों की पिटाई

Saurav Singh

Ranchi: बच्चा चोरी की अफवाह की आंच अब बिहार के बाद झारखंड में भी पहुंच गयी है. हर दिन किसी न किसी जिले में अफवाह के कारण किसी मानसिक रूप से बीमार महिला व पुरुष या अनजान व्यक्ति की पिटाई कर दी जा रही है. भीड़ बिना कुछ सोचे-समझे बच्चा चोर कह कर जान लेने पर उतारू हो जा रही है. झारखंड में अगर पिछले 5 दिनों की बात करें तो जमशेदपुर, रामगढ़, हजारीबाग, गिरिडीह और पलामू में पिछले 5 दिनों के अंदर बच्चा चोरी की अफवाह में 7 लोगों की भीड़ ने पिटाई कर दी. इन सातों लोगों की भीड़ के द्वारा बच्चा चोरी की अफवाह में की गयी पिटाई में भीड़ की पिटाई के वजह से लोग बुरी तरह घायल हो गये. अगर नहीं बचाया जाता तो मौत भी हो सकती थी.

इसे भी पढ़ें – रिजर्व बैंक की “रिजर्व “ मनी से कमजोर होती अर्थव्यवस्था को कितनी मजबूती मिल सकेगी

गलतफहमी में हो रही है लोगों की पिटाई

झारखंड में इन दिनों बच्चा चोरी की अफवाह में भीड़ के द्वारा जिन लोगों की पिटाई की जा रही है, सही मायने में देखें तो वो बच्चे की चोरी नहीं करते हैं. गलतफहमी में भीड़ के हाथों निर्दोष लोगों की पिटाई की जा रही है. हाल के दिनों में जितने भी लोगों की भीड़ के द्वारा पिटाई की गयी है, उसमें तो कई मानसिक रूप से विक्षिप्त भी पाये गये हैं. बच्चा चोरी के अफवाह में भीड़ जान से मारने को उतारू हो जा रही है.

इसे भी पढ़ें – SBI में खाता है, तैयार रहिए, लाइन में लगने के लिए, फ्रीज होगा एकाउंट, फिर भरना पड़ेगा केवाइसी

वर्ष 2017 में कोल्हान में बच्चा चोरी के आरोप में हुई थी 6 लोगों की हत्या

17 मई 2017 झारखंड के कोल्हान प्रमंडल में बच्चा चोरी की अफ़वाहों के बीच दो जगहों पर उग्र भीड़ ने छह लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. ग्रामीणों को शक था कि मारे गये लोग बच्चा चोर गिरोह के सदस्य हैं. सरायकेला-खरसांवा जिले के राजनगर इलाके में उग्र ग्रामीणों ने तीन लोगों को मार डाला. वहीं देर शाम जमशेदपुर के बागबेड़ा में भी भीड़ ने तीन लोगों की हत्या कर दी गयी. यह सब बच्चा चोर गिरोह की सक्रियता की अफवाह के कारण हुआ था.

पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों को अलर्ट किया है

झारखंड में एक बार फिर बच्चा चोरी की अफवाह पुलिस के लिए सिरदर्द बनने जा रही है. डेढ़ साल बाद प्रदेश में बच्चा चोरी को लेकर मारपीट आदि की घटनाएं जोर पकडऩे लगी हैं. हालात यह बन गये हैं कि कहीं भी मॉब लिंचिंग की घटने की आशंका बनी रहती है. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों को अलर्ट किया है, ताकि बच्चा चोरी की अफवाह के चलते कोई हिंसक घटना न हो.

बच्चा चोरी की अफवाह में पिछले 5 दिनों में हुई 7 लोगों की पिटाई

22 अगस्त को हजारीबाग के सिलवार गांव में एक महिला की बच्चा चोर समझ कर पिटाई कर दी गयी.

25 अगस्त: हजारीबाग दारू थाना क्षेत्र में बच्चा चोरी की अफवाह फैलने के बाद लोगों ने एक महिला की जम कर पिटाई कर दी. वहीं, इस बीच मची भगदड़ के दौरान कुएं में गिरने से एक किशोर की मौत हो गयी.

25 अगस्त: रामगढ़ जिले के चितरपुर लाइन पार स्थित पहाड़ी में ग्रामीणों ने बच्चा चोरी के आरोप में एक महिला की पिटाई कर दी. महिला विक्षिप्त बतायी जा रही थी.

25 अगस्त : हजारीबाग के दारू थाना क्षेत्र के महेशरा गांव में ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझ कर एक वृद्ध महिला की पिटाई कर दी.

25 अगस्त: पलामू के छतरपुर के बढ़हवाखांड गांव में लोगों ने एक विक्षिप्त युवक को पीट डाला.

26अगस्त: गिरिडीह के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के बनियाडीह में बच्चा चोरी के आरोप में महिला की पिटाई.

26 अगस्त: जमशेदपुर के गोविंदपुर थाना क्षेत्र स्थित चांदनी चौक पर बच्चा चोर समझ कर एक व्यक्ति की पिटाई.

इसे भी पढ़ें – झारखंड कैडर के आइपीएस एसएन प्रधान ने पेश की मिसाल, केबीसी में जीते 25 लाख शहीद फंड में दिया दान

Related Articles

Back to top button