BiharCrime NewsLead News

जमुई में नक्सलियों ने मुखबिरी के आरोप में जन अदालत लगाकर पिता-पुत्र को भूना

Jamui: जिले में एक बार फिर नक्सलियों ने आतंक मचाया है. नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के दस्ते ने बुधवार की रात पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी. घटना जमुई जिले के चकाई के बोंगी इलाके के बाराटांड़ गांव की है. जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने मुखबिरी का आरोप लगाकर पिता-पुत्र को निशाना बनाया और जन आदालत लगाकर ग्रामीणों के सामने उन पर गोलियां बरसाते हुए नृशंस हत्या कर दी.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह में निगम का अतिक्रमण हटाओ अभियान फिर शुरू, पद्म चौक पर शेड तोड़ने के बाद जोरदार विरोध
हत्या करने के बाद नक्सलियों ने घटनास्थल पर पोस्टर भी छोड़ा है. दोनों की हत्या मुखबिरी का आरोप लगाकर की गई है. घटना में मारे गए पिता का नाम चोपाय हेम्ब्रम जबकि पुत्र का नाम अर्जुन हेंब्रम बताया गया है. घटना को अंजाम देने आए नक्सलियों की संख्या दो दर्जन बताई जा रही है. मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस छानबीन में जुटते हुए आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.
यह घटना जमुई जिले के चकाई थाना इलाके के बोंगी पंचायत के टोला पहाड़ के बाराटांड़ गांव की है जहां बुधवार की रात हथियारबंद नक्सलियों ने गांव पर हमला बोलते हुए चोपाय हेंब्रम (60) और उसके बेटे अर्जुन हेंब्रम (35) दोनो को अपने कब्जे में ले लिया. इसके बाद जल अदालत में मुखबिरी का आरोप लगया और फिर गोलियां बरसाकर हत्या कर दी. दोनों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई. जमुई जिले के अति नक्सल प्रभावित इलाके में डबल मर्डर के बाद क्षेत्र में दहशत व्याप्त है.

advt

हत्या के इस दोहरे मामले में जिले के प्रभारी एसपी डॉ राकेश कुमार ने बताया कि पुलिस को यह जानकारी मिली है कि नक्सलियों ने पिता-पुत्र की हत्या कर दी है. जिस इलाके में घटना हुई है वह दुर्गम पहाड़ी और नक्सल प्रभावित इलाका में आता है. घटना के बाद नक्सलियों के खिलाफ इलाके में सर्च अभियान तेज कर दिया गया है. वहीं पुलिस ने घटनास्थल से भारी मात्रा में खोखा और नक्सली पर्चा बरामद किया है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: