National

जम्मू-कश्मीर में स्थिति नियंत्रण में, सिर्फ कुछ लोग पैलेट गन की वजह से जख्मी हुए : एडीजी मुनीर खान

NewDelhi : जम्मू में लगाये गये प्रतिबंध पूरी तरह हटा लिये गये हैं,  लेकिन कश्मीर में कुछ स्थानों पर कुछ समय  तक पाबंदियां जारी रहेंगी. जम्मू कश्मीर  एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) मुनीर खान ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर यह जानकारी दी . एडीजी मुनीर खान के अनुसार जम्मू कश्मीर में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा,जम्मू में लगायी गयी पाबंदियां पूरी तरह हटा ली गयी हैं. कश्मीर के कुछ स्थानों पर कुछ समय तक ये जारी रहेंगी.

मुनीर खान ने बताया कि कुछ लोग ही पैलेट गन की वजह से जख्मी हुए हैं , जिनका इलाज किया गया है.  किसी को भी  बड़ी चोट नहीं आयी है.  इस  क्रम में  कहा कि साल 2010 और 2016 के कुछ वीडियो वायरल कर लोगों की भावनाओं को भड़काने का प्रयास किया जा रहा है. कहा कि पुलिस इसे रोकने के लिए प्रभावी कदम उठा रही है. खान के अनुसार, श्रीनगर और घाटी में अन्य जिलों के विभिन्न हिस्सों में मामूली घटनाएं हुईं। इनसे स्थानीय रूप से ही निपटा गया.

इसे भी पढ़ें – 370 हटाने पर बोले कश्मीरी : हमें बंदी बनाकर, सिर पर बंदूक तानकर आवाज घोंटकर मुंह में जबरन कुछ ठूंसने जैसा है

उपद्रवी तत्व शांतिपूर्ण माहौल ना बिगाड़ें…

उन्होंने कहा, हमारा सबसे बड़ा काम यह सुनिश्चित करना है कि कोई भी हताहत ना हो. हिरासत में लिये गये लोगों की संख्या के बारे में पूछने पर खान ने कहा कि वह अलग-अलग लोगों के बारे में बात नहीं करेंगे. उन्होंने कहा, इस तरह की कानून एवं व्यवस्था की स्थिति में, अलग-अलग तरह की हिरासत होती है. एहतियातन हिरासत का मकसद यह सुनिश्चित करना होता है कि उपद्रवी तत्व शांतिपूर्ण माहौल ना बिगाड़ें..इसलिए आपको एहतियातन कदम उठाने पड़ते हैं

advt

जम्मू कश्मीर के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने बताया कि राज्य में कुल मिलाकर शांति है.  कंसल ने भी मीडिया को संबोधित किया. उन्होंने कहा, श्रीनगर समेत कई इलाकों में निषेधाज्ञा के आदेश में ढील दी गयी है जो आज दोपहर तक जारी रहेंगी. कंसल ने कहा कि अन्य सभी मोर्चों नागरिक आपूर्ति, राष्ट्रीय राजमार्ग, हवाईअड्डा, चिकित्सीय सुविधाओं पर स्थिति सामान्य है.

उन्होंने कहा, स्थानीय प्राधिकारी पहले की तरह स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं और स्थिति के हिसाब से ढील दे रहे हैं. जम्मू कश्मीर में प्रतिबंध पांच अगस्त को लागू किये गये थे जब केंद्र ने उसका विशेष दर्जा हटाया और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख में विभाजित कर दिया था.

इसे भी पढ़ें – मंदी में इकोनॉमी, रोज बेरोजगार होते हजारों लोग और हम बना दिये गये 370+ve व 370-ve

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button