JamshedpurJharkhand

पूर्वी सिंहभूम में इस वर्ष 47336 विद्यार्थियों ने मैट्रिक-इंटर की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया, यह संख्या पिछले तीन साल में सबसे ज्यादा है

Pratik Piyush

Jamshedpur :  पूर्वी सिंहभूम जिले में इस बार 25369 छात्र-छात्राएं मैट्रिक की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है, जबकि 21967 विद्यार्थियों ने इंटर की परीक्षा में शामिल होने के लिए पंजीयन कराते हुए फॉर्म भरा है. यह आंकड़ा पिछले दो वर्षों की तुलना में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा में शामिल होनेवाले बच्चों की संख्या से अधिक है. पूर्वी सिंहभूम जिला शिक्षा विभाग में मैट्रिक और इंटर के लिए विद्यार्थियों के रजिस्ट्रेशन के आंकड़ों से इस बात की पुष्टि हो रही है. रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पिछले दिनों ही समाप्त हुई है. इसके बाद जिला शिक्षा विभाग की ओर से इंटरमीडिएट और मैट्रिक की परीक्षा के लिए आवेदन करनेवाले छात्रों की लिस्ट और एग्जाम फॉर्म झारखंड एकडिमिक काउंसिल (जैक) को भेज दिये गये हैं. इसके साथ ही परीक्षा की तैयारियां भी शुरू हो गयी हैं. हालांकि अभी आधिकारिक रूप से परीक्षा तिथि की घोषणा नहीं की गयी है, लेकिन संभावना जतायी जा रही है कि कोरोना संक्रमण को लेकर सरकार की ओर से लगायी गयी बंदिशों को हटाने के साथ ही परीक्षा तिथियों की घोषणा कर दी जायेगी.

रजिस्ट्रेशन के आंकड़े साल दर साल

ram janam hospital
Catalyst IAS

मैट्रिक

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

वर्ष       संख्या

2021     25369

2020     22173

2019     23452

इंटर

वर्ष     आर्ट्स    कामर्स    साइंस

2021   11519   5502     4946

2020   7227     4587     4442

2019   9942     5211     5200

इस बार मिला था सीमित समय

जिला शिक्षा विभाग को इस बार मैट्रिक और इंटरमिडिएट का रजिट्रेशन कराने के लिए जैक की ओर से काफी सीमित समय दिया गया था. हालांकि बाद में इस समय को कुछ दिन बढ़ाया भी गया था. लेकिन समय कम रहने के कारण ऐसे कई छात्र-छात्राएं परीक्षा का फार्म नहीं भर सके, जो कोरोना काल में अपने स्कूलों के संपर्क में नहीं रह सके थे और स्कूल की ओर से भी उनसे संपर्क नहीं किया जा सका था.

शिक्षा विभाग ने छात्रों को किया अलर्ट

जिला शिक्षा विभाग की ओर से छात्रों को इस बार पहले ही अलर्ट कर दिया गया है कि इस बार पहले की तरह ही परीक्षा होगी. पहले यह कहा जा रहा था कि दोनों परीक्षाएं दो टर्म में होनी हैं, लेकिन कोरोना काल की तीसरी लहर आ जाने के कारण फिर से झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने फैसला किया कि विद्यार्थी एक ही बार मैट्रिक और इंटर की परीक्षा में भाग लेंगे. इसलिए अब इसी के अधार पर तैयारियां की जा रही हैं.

इसे भी पढ़ें –BIG NEWS : दक्षिण अफ्रीका में मिला नया ज्यादा खतरनाक कोरोना वैरियंट NeoCov, वुहान के वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी,  3 में से 1 मरीज की होगी मौत! 

Related Articles

Back to top button