न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : मुख्यमंत्री जनसंवाद में पलामू के 3124 मामले लंबित, जल्द निपटाने का मिला निर्देश

जिले में मुख्यमंत्री जनसंवाद के तीन हजार से ज्यादा मामले लंबित हैं. मंगलवार को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने मुख्यमंत्री जनसंवाद की साप्ताहिक समीक्षा की.

49

Palamu : जिले में मुख्यमंत्री जनसंवाद के तीन हजार से ज्यादा मामले लंबित हैं. मंगलवार को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने मुख्यमंत्री जनसंवाद की साप्ताहिक समीक्षा की. इसके तहत पलामू जिले में चल रहे मुख्यमंत्री जनसंवाद की समीक्षा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की गयी.

mi banner add

उन्होंने डीआरडीए के निदेशक सह मुख्यमंत्री जनसंवाद की पलामू जिला नोडल पदाधिकारी स्मिता टोप्पो से अबतक निपटाये गये मामलों की अपडेटेड जानकारी ली. वहीं जिले में लंबित 3124 मामलों का त्वरित कार्रवाई कर निष्पादित करने का निर्देश भी दिया. मुख्य रूप से पलामू के विभाग स्तरीय और जिलास्तरीय मामले थे. इसमें एक मामला जल संसाधन विभाग एवं दूसरा राजस्व निबंधन एवं भूमि सुधार विभाग द्वारा मुआवजा भुगतान से जुड़ा था.

रैयतों को 24 जून तक करें मुआवजा राशि का भुगतान: प्रधान सचिव

उत्तरी कोयल परियोजना के लिए वर्ष 2005-2006 में इमली गांव के रैयतों की जमीन का अधिग्रहण किया गया था. इसे लेकर 13 जून को निबंधन एवं भूमि सुधार विभाग द्वारा राशि का भुगतान किया जाना था. लेकिन भुगतान नहीं हो सका. इसे लेकर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने त्वरित कार्रवाई कर 24 जून तक राशि का भुगतान करके शिकायत का निपटारा करने का निर्देश दिया. साथ ही मुख्यमंत्री जनसंवाद के पोर्टल पर अपलोड करने का निर्देश भी दिया.

वन विभाग के नोडल पदाधिकारी को हुआ शो-कॉज

Related Posts

’24 तारीख की सुनवाई में रोक हटी तो लाखों आदिवासी परिवार हो जायेंगे बेघर’

सुप्रीम कोर्ट के आदेश से प्रभावित होने वाले वन क्षेत्रों के हजारों लोगों ने जताया अपना आक्रोश

जिले में बेकार हो चुके वनों की पुनर्वास योजना के अंतर्गत साल 2012-13 में काम करने वाले बनवारी उरांव की मजदूरी के 72 हजार रुपयों का अब तक भुगतान न होने से शिकायत पर कार्रवाई की गयी. इस मामले में संतोषजनक जवाब न देने वाले वन विभाग के नोडल पदाधिकारी विनय कुमार दास को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने नोडल पदाधिकारी के दायित्व से मुक्त करने, उन्हें शो-कॉज जारी करने एवं उनके खिलाफ प्रपत्र ‘क’ गठित करने का निर्देश दिया.

समीक्षा के दौरान डीआरडीए के निदेशक सह मुख्यमंत्री जनसंवाद के पलामू जिला नोडल पदाधिकारी स्मिता टोप्पो, एसडीओ नंदकिशोर गुप्ता, डीएसपी सुरजीत कुमार, जिला शिकायत निवारण समन्वयक संदीप कुमार एवं ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर पंकज पांडेय और अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें – पत्थलगड़ी वाला बीरबांकी : जहां साप्ताहिक बाजार में ही कर दिया जाता है मरीजों का ऑपरेशन, स्लाइन…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: