ChatraCrime NewsJharkhand

चतरा में थाना प्रभारी पर लगा हत्याकांड के आरोपियों को छोड़ने का आरोप,थाना के बाहर ग्रामीणों का हंगामा

Chatra: जिले के चर्चित रानी देवी ब्लाइंड मर्डर केस में पुलिस के खुलासे के दावों का ग्रामीणों ने विरोध किया है और इस मामले  को लेकर सिमरिया थाना में गुरूवार को जमकर हंगामा किया. आक्रोशित ग्रामीणों व महिलाओं ने सिमरिया थाना का घेराव करते हुए पुलिस पर पैसे लेकर हत्या की घटना में शामिल तीन अन्य आरोपियों को थाना से छोड़ देने का गंभीर आरोप लगाया है.
इसे भी पढ़े: चतरा मुठभेड़ में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान चितरंजन कुमार को सीएम और राज्यपाल ने दी श्रद्धांजलि
हत्या में शामिल एक आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल
बताया जा रहा है कि हत्या में प्रयुक्त सामान के साथ पुलिस ने चार लोगों की गिरफ्तारी की थी, लेकिन पूछताछ के बाद एक को जेल भेज दिया जबकि तीन लोगों को छोड़ दिया. ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने पैसे लेकर थाना से इन तीनों आरोपियों को छोड़ मामले के खुलासा होने की खानापूर्ति कर रही है. ग्रामीणों ने पुलिस पर अपराधियों से पैसे लेकर निर्दोष महिलाओं व ग्रामीणों की हत्या कराने की षड्यंत्र रचने का भी आरोप लगाया. ग्रामीणों का कहना है कि अपराधियों के थाना से छूटने के बाद गांव की महिलाएं व ग्रामीण सुरक्षित नहीं है. थाना से मुक्त तीनों अपराधी घरों में घुसकर फिर से मारकाट की घटनाओं को अंजाम दे सकते हैं. ग्रामीणों ने कहा कि दो दिनों में छोड़े गए आरोपियों को पुनः गिरफ्तार नहीं किया गया तो सड़क जाम कर उग्र आंदोलन किया जाएगा. सिमरिया थाना क्षेत्र के सबानो कोंडराटांड बारा टोला गांव की महिलाओं ने थाना में हंगामा किया. वहीं थाना प्रभारी विवेक कुमार ने ग्रामीणों के आरोप को बेबुनियाद बताया है.

Related Articles

Back to top button