Bihar

बेतिया में थानेदार ने की टिप्पणी- रिमांड होम की लड़की रोज रात को नेताओं के साथ घूमेगी, ऑडियो हो रहा वायरल

Betia : बिहार में रिमांड होम की सच्चाई भला कौन नहीं जानता है, लेकिन इस सच्चाई को अगर कोई पुलिसवाला बयां करे तो तो इसकी गंभीरता को समझा जा सकता है. बेतिया में पुलिस के द्वारा आरोपियों पर कार्रवाई के बदले पीड़िता के घरवालों को रिमांड होम की सच्चाई बता कर धमकाने का ऑडियो वायरल हो रहा है. बेतिया एसपी ने आरोपी थानेदार को निलंबित कर दिया है.

बिहार में रिमांड होम में लड़कियों की सुरक्षा पर सवाल पहले से उठते रहे हैं. लेकिन इस बार जो सवाल उठ रहे हैं वो पूरी तरह से गैर-राजनैतिक हैं. बल्कि एक कानून का रखवाला ही रिमांड होम की सच्चाई को उजागर कर रहा है.

इसे भी पढें:UPSC CDS 2022: 10 अप्रैल को परीक्षा, आयुक्त ने अधिकारियों को परीक्षा गाडलाइन का पालन कराने का दिया निर्देश

ये पूरा मामला बैरिया थाने का है. इसी थाना क्षेत्र के सुदामा नगर गांव की एक लड़की को थाने के चौकीदार शम्भू साह और उसके बेटे पर भगाने का आरोप लगा. इस बाबत जब लड़की के परिजन थाने में शिकायत लेकर गये तो उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई.

इसे भी पढें:जाति प्रमाण पत्र को अवैध करार देने पर विधायक समरी लाल ने दी हाईकोर्ट में चुनौती

पीड़ित परिवार के एसपी से मिलने के बाद ही इस मामले में पीड़ित परिवार से आवेदन लिया गया और जब, अपहरण के पूरे बारह दिनों के बाद लड़की वापस आयी तो थानेदार ने चौकीदार व उसके लड़के को बचाने के लिए पीड़ित परिवार के सामने रिमांड होम में लड़कियों के यौन-शोषण होने की बात की.

पीड़ित परिवार ने थानेदार दुष्यंत सिंह की इस पूरी बात को रिकॉर्ड कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है. इस पूरे मामले में बेतिया एसपी उपेंद्र नाथ वर्मा ने जांच के बाद आरोपी थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया है.

इसे भी पढें:गरीब बनकर होटल मालिक समेत अन्य उठा रहे थे अनाज, प्रशासन ने भेजा नोटिस, जुर्माना नहीं देने पर FIR

Related Articles

Back to top button