JharkhandLead NewsRanchi

बेरमो में CCL ने बगैर NoC शुरू किया कोनार साइडिंग, विधायक अनूप सिंह ने CM से लगायी एक्शन लेने की गुहार

Ranchi: बेरमो (बोकारो) में सीसीएल के जरिए कोनार साइडिंग (खास महल परियोजना) का संचालन किया जा रहा है. आरोप लगाया जा रहा है कि इसके लिए जरूरी ग्राम सभा सीसीएल ने नहीं करायी. इसके संचालन में नियमों का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन किया जा रहा है. स्थित यह है कि कोनार साइडिंग का संचालन सीसीएल (बोकरो एवं करगली) द्वारा किए जाने से गांव माइंस के बीचोंबीच आ गया है. ऐसे में स्थानीय लोगों में जबर्दस्त आक्रोश है. ग्रामीणों और विस्थापितों को पीने का पानी तक मुहैया नहीं हो पा रहा है. स्थानीय विधायक अनुप सिंह (कुमार जयमंगल) ने इस संबंध में बोकारो डीसी से शिकायत की है. 10 जनवरी को भी उन्हें एक लेटर भी लिखा. सीएम हेमंत सोरेन से भी इस मामले पर त्वरित एक्शन लेने की गुहार लगायी है.

इसे भी पढ़ें : हाल ए CM पशुधन विकास योजनाः लातेहार में दो सालों से एक भी लाभुक ने जमा नहीं किया अंशदान

Catalyst IAS
ram janam hospital

क्या लिखा है लेटर में

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

अनुप सिंह ने अपने लेटर में कहा है कि कोनार साइडिंग में उन्होंने 10 जनवरी को दौरा किया. इसमें 1948 पार्लियामेंट्री एक्ट का उल्लंघन पाया. बगैर उनकी जानकारी के ही इस साइडिंग को शुरू कर दिया गया है. सीटीओ का भी पता नहीं. झामुमो के जिला अध्यक्ष हीरालाल मांझी ने इस साइडिंग की वैधता को लेकर कार्य बंद कराया था. मैनेजमेंट ने 15 दिनों के भीतर जरूरी कदम उठाए जाने की बात की थी. पर बोकारो एवं करगली प्रबंधन ने कोई कार्रवाई नहीं की. कोनार साइडिंग के कारण केंद्र, राज्य सरकार के अलावा जनप्रतिनिधियों (सांसद, विधायक) के द्वारा कराए गये कई कामों को बर्बाद कर दिया गया है. बच्चों के प्ले ग्राउंड को भी नष्ट कर दिया गया है. जिला प्रशासन तक से एनओसी नहीं ली गयी है.

चूंकि सीसीएल प्रबंधन (बोकारो एवं करगली) ने कोनार साइडिंग के संचालन में भारी अनियमितता बरती है. बगैर एनओसी इसे चालू किया है. इसे अविलंब बंद कराएं. प्रशासन की उपस्थिति में ग्राम सभा हो. ऐसा नहीं किए जाने पर वे ग्रामीणों के साथ धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे. अनुप सिंह ने ट्विटर के जरिए सीएम से भी एक्शन लेने का आग्रह किया है. कहा है कि इस मामले पर त्वरित कार्रवाई करने का संज्ञान लें. विस्थापितों की समस्याओं को लेकर झामुमो जिलाध्यक्ष हीरालाल के द्वारा भी आंदोलन किया गया था. इस पर कोई भी पहल सीसीएल प्रबंधन के द्वारा अब तक नहीं किया गया है.

इसे भी पढ़ें : नालंदा में पेड़ से लटका मिला युवक का शव, क्षेत्र में सनसनी

Related Articles

Back to top button