न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

10 दिनों में हातमा तालाब को बनायें पूजा घाट के लायक, नहीं तो कंपनी जायेगी काली सूची में : मेयर

छठ और काली पूजा के पहले मेयर आशा लकड़ा ने राजधानी के तालाबों का किया निरीक्षण

37

Ranchi : छठ पर्व के पहले शहर के सभी तालाबों की सफाई व्यवस्था का निरीक्षण कार्य मेयर आशा लकड़ा ने शुक्रवार से शुरू किया. इसके तहत शुक्रवार को मेयर ने रिम्स तालाब, दिव्यायन तालाब, तेतर टोली तालाब, हातमा बस्ती तालाब व कांके डैम का निरीक्षण किया. मेयर के साथ डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय, नगर आयुक्त मनोज कुमार, उपनगर आयुक्त संजय कुमार, निगम की स्वास्थ्य पदाधिकारी डॉ किरण सहित नगर निगम की पूरी टीम मौजूद थी. निरीक्षण के दौरान उन्होंने युद्धस्तर पर हो रही तालाबों की साफ-सफाई की प्रशंसा की. मौके पर ही सफाईकर्मियों को प्रोत्साहित कर कहा कि छठ पूजा और काली पूजा को देखते हुए तालाबों की सफाई पूरी मेहनत से करें. तालाबों की साफ-सफाई का जायजा लेने के दौरान मेयर ने हातमा तालाब का काम देख रहे संवेदक शोभित कंस्ट्रक्शन को इस तालाब को अगले 10 दिनों में छठ घाट के लायक तालाब बनाने का निर्देश दिया. वहीं, व्यू प्वॉइंट, मुख्यद्वार आदि का काम जल्द ही पूरा करने का निर्देश दिया. ऐसा नहीं होने पर उन्होंने संबंधित कंपनी को काली सूची में डालने का भी निर्देश दिया. हालांकि मेयर के नेतृत्ववाली टीम के पहुंचने से पहले ही शहर के कई तालाबों की सफाई और तालाब तक पहुंचनेवाली सड़कों की सफाई शुरू कर दी गयी थी.

इसे भी पढ़ें- अपने गुनाहों को छुपाने के लिए सीबीआई का उपयोग कर रही है मोदी सरकार : सुबोधकांत सहाय

पूजा के लिए मेयर ने की अपील

निरीक्षण के दौरान मेयर आशा लकड़ा ने सफाईकर्मियों सहित आस-पास के लोगों से कई अपील की. इसमें तालाबों की सीढ़ी पर पेंट से नाम या लाइन न लिखने, श्रद्धालुओं को छठ घाट पर कब्जा न करने, सभी छठव्रतियों को सौहार्दपूर्ण वातावरण में छठ पूजा करने की अपील शामिल है.

शौचालय का निर्माण करने का दिया निर्देश

निरीक्षण के दौरान मेयर आशा लकड़ा ने निगम के अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी तालाबों के किनारे शौचालय का निर्माण कराया जाये, ताकि यहां आनेवाले लोग तालाब को गंदा न कर सकें. इसके अलावा तालाबों के किनारे सोलर सिस्टम भी लगाने की बात उन्होंने कही.

इसे भी पढ़ें- डीसी क्षेत्र में निकलें, आम जनता और सरकार का सीधा समन्वय हो : मुख्यमंत्री

देखरेख के लिए की जायेगी बंदोबस्ती

निरीक्षण के दौरान मेयर ने देखा कि निगम द्वारा कई तालाबों का निर्माण तो कराया गया है, लेकिन यहां देखरेख की अभी कोई व्यवस्था नहीं है. ऐसे में डिप्टी मेयर ने तालाबों की बंदोबस्ती करने और उससे आनेवाली आमदनी को तालाब की देखरेख में ही खर्च करने का निर्देश दिया. मौके पर उपनगर आयुक्त संजय कुमार ने मेयर को बताया कि तालाबों को बंदोबस्ती करने की प्रक्रिया जारी है. जहां काम पूर्ण हो चुके हैं, वहां तालाबों की बंदोबस्ती कर दी जायेगी.

अगले तीन दिनों तक करेंगी निरीक्षण कार्य

आगामी पूजा को देखते हुए मेयर शनिवार को भी शहर के विभिन्न तालाबों का निरीक्षण करेंगी. इसमें सुबह 8.30 बजे से जेल तालाब,  चडरी तालाब,  बड़ा तालाब,  बनस तालाब,  धुमसा (नायक) तालाब का जायजा लेना शामिल है. इसके अलावा रविवार को मेयर मधुकम तालाब, कडरू तालाब, अरगोड़ा तालाब और बटन तालाब, सोमवार को हटिया डैम, स्वर्ण रेखा नदी नामकुम और घाघरा का निरीक्षण करेंगी. इसके साथ ही विभिन्न वार्डों में सफाई व्यवस्था का जायजा लेने का काम 31 अक्टूबर से शुरू किया जायेगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: