Lead NewsNational

काम की खबर : जानिये क्या हुआ बदलाव जिससे Fastag इस्तेमाल करनेवाले 2.54 करोड़ यूजर को होगा फायदा

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण का महत्वपूर्ण निर्णय

New Delhi : यदि आप अपने वाहन से नेशनल हाईवे (National Highway) पर ट्रेवल करते हैं और फास्टैग (Fastag) का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है. इसका बेहतर उपयोग कर सके, इसके लिए एनएचएआई ( NHAI) ने फैसला लिया है अब फास्टैग में मिनिमम बैलेंस (Minimum Balance) नहीं रखना होगा.

हालांकि यह सुविधा सिर्फ कार, जीप या वैन (Car, Jeep, Van) के लिए ही है, कॉमर्शियल व्हीकल (Commercial Vehicles) के लिए नहीं.

बैंक अब नहीं कर सकते मिनिमम बैलेंस अनिवार्य

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) से मिली जानकारी के अनुसार अब फास्टैग (Fastag) को जारी करने वाले बैंक सिक्योरिटी डिपॉजिट (Bank Security Deposit) के अलावा कोई मिनिमम बैलेंस (Minimum Balance) रखना अनिवार्य नहीं कर सकते.

पहले विभिन्न बैंक फास्टैग में सिक्योरिटी डिपोजिट के अलावा मिनिमम बैलेंस रखने के लिए भी कह रहे थे. कोई बैंक 150 रुपये तो कोई बैंक 200 रुपये का मिनिमम बैलेंस रखने को कह रहे थे.

मिनिमम बैलेंस होने की वजह से कई FASTag उपयोगकर्ताओं को अपने FASTag खाते/बटुए में पर्याप्त शेष होने राशि के बावजूद, एक टोल प्लाजा से गुजरने की अनुमति नहीं मिलती थी. इसके परिणामस्वरूप टोल प्लाजा पर गैर जरूरी नोक-झोंक होती थी.

इसे भी पढ़ें :हमारी राजनीति में ‘राष्ट्र नीति’ सर्वोपरि: मोदी

अगर बैलेंस निगेटिव नहीं है तो टोल प्लाजा पार करेगी कार

एनएचएआई (NHAI) ने फैसला किया है कि यूजर को अब टोल प्लाजा (Toll Plaza) से गुजरने की तब तक अनुमति दी जाएगी, जब तक कि FASTag खाते/वॉलेट में निगेटिव बैलेंस नहीं है. यदि फास्टैग अकाउंट (Fastag Account) में कम पैसे हैं तो भी कार को टोल प्लाजा पार करने की अनुमति होगी.

भले ही टोल प्लाजा पार करने के बाद फास्टैग अकाउंट निगेटिव (Negative Account) क्यों नहीं हो जाए. यदि ग्राहक उसे रिचार्ज नहीं करता है तो निगेटिव अकाउंट की रकम बैंक सिक्योरिटी डिपॉजिट से वसूल कर सकता है.

इसे भी पढ़ें : इंजीनियर समेत दो युवकों ने पुलिसवालों पर लगाया बेवजह मारपीट और पैसे छीनने का लगाया आरोप

15 फरवरी फास्टैग से टोल प्लाजा पर भुगतान होगा अनिवार्य

इस समय देश भर में 2.54 करोड़ से अधिक फास्टैग के यूजर हैं. इस समय एनएच पर FASTag कुल टोल संग्रह का 80 फीसदी योगदान देता है. इस समय FASTag के माध्यम से दैनिक टोल संग्रह 89 करोड़ रुपये को पार कर गया है.

उल्लेखनीय है कि 15 फरवरी 2021 से फास्टैग के माध्यम से टोल प्लाजा पर भुगतान अनिवार्य हो जाएगा. ऐसा इसलिए, क्योंकि भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (National Highway Authority of India) देश भर में टोल प्लाजा पर 100% कैशलेस टोल (Cashless Toll) प्राप्त करने का लक्ष्य बना रहा है.

इसे भी पढ़ें :अपेक्षित प्रदर्शन नहीं करने पर 340 अधिकारियों को समयपूर्व सेवानिवृत्त किया गया

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: