न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बंद का कई जिलों में दिखा असर, कहीं रोड जाम तो कहीं रोकी ट्रेन

राज्य भर में रेल, रोड और बाजार बंद करने की कोशिश

568

Lohardaga/Bokaro : भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक के विरोध में विपक्ष द्वारा बुलाए गए बंद का जिलों में असर देखने को मिला. राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने प्रदर्शन करते हुए बंद कराने की कोशिश की. कहीं पर लोगों ने रोड जाम किया, कहीं टायर जलाकर प्रदर्शन किया तो कहीं पर ट्रेन रोकर परिचालन को बाधित करने की कोशिशि की गयी.

बंद को लेकर राज्य भर में रेल, रोड और बाजार बंद करने की कोशिश की गयी. लोहरदगा में एनएच को जाम करने के लिए बंद समर्थक उतर गए तो वहीं बोकारो में लोगों ने राजधानी ट्रेन को रोकने की कोशिश की.

इसे भी पढ़ें:-बंद 9:00 बजे तक : गिरिडीह में सुबह से ही सड़कों पर उतरे बंद समर्थक, बस स्टैंड में सन्नाटा

जेएमएम कार्यकर्ताओं ने एनएच जाम कराने की कोशिश की

गौरतलब है कि बंद को लेकर लोहरदगा में असर देखने को मिला.जेएमएम, कांग्रेस, जेवीएम, आजेडी, माले, सीपीआईएम सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने शहर से लेकर प्रखंड मुख्यालयों तक में अलग-अलग स्थानों पर प्रदर्शन किया. जेएमएम के कार्यकर्ताओं ने लोहरदगा-रांची, लोहरदगा-लातेहार एनएच 144 A को जाम करने की कोशिश की.

इसे भी पढ़ें:-9:30AM: बंद समर्थक नदारद, रांची की सड़कों पर सिर्फ पुलिस ही पुलिस

वहीं शहर के शंख नदी मोड़ के समीप टायर जलाकर वाहनों का परिचालन प्रभावित करने की कोशिश की गयी. पुलिस की तमाम कोशिशों के बावजूद बंद समर्थक अलग-अलग रूप से सक्रिय नजर आए. हालांकि कहीं पर भी बंद समर्थक एक साथ दिखाई नहीं दिए. इस दौरान पुलिस और बंद समर्थकों के बीच लुका छिपी का खेल भी चलता रहा है.

इसे भी पढ़ें- सीडब्ल्यूसी का बड़ा खुलासा : अविवाहित गर्भवती लड़कियों को निर्मल हृदय में मिलता है आश्रय, बच्चा होने पर बेच दिया जाता है उसे

बंद से जनजीवन हुआ प्रभावित

बंद के दौरान किसी प्रकार की हिंसा, तोड़फोड़, आगजनी को रोकने को लेकर पुलिस प्रशासन की तैयारियों को विफल बताते हुए बंद समर्थकों ने प्रदर्शन व आगजनी कर पुलिस को खुली चुनौती दी. पुलिस को जैसे ही बंद समर्थकों द्वारा प्रदर्शन की जानकारी मिली, वैसे ही पुलिस की टीम वहां पहुंच गई. लेकिन तबतक बंद समर्थक वहां से निकल गए थे.

इसे भी पढ़ें:-10:00 AM बंद को सफल बनाने निकले समर्थक, रातू में निकाला जुलूस

शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में भारी संख्या में दंडाधिकारी के साथ पुलिस बल की तैनाती की गई थी. पुलिस अपनी ओर से पूरी तरह से मुस्तैद नजर आ रही थी. इसके साथ ही बंद समर्थकों ने भी योजनाबद्ध रूप से प्रदर्शन करते हुए बंद को सफल बनाने की कोशिश की है.

बंद की वजह से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है. जहां निजी स्कूल बंद रहे, वहीं सरकारी स्कूलों में भी उपस्थिति काफी कम देखी गई. बंद की वजह से सामान्य बाजार व्यवस्था पर भी असर पड़ा है. हलाकि रेल सेवा पर इसका कोई असर नहीं रहा.

इसे भी पढ़ें- आखिरकार चालू हो ही गया कांके स्थित स्लॉटर हाउस, अब लोगों को मिलने लगा हाइजीनिक मीट

बोकारो में राजधानी ट्रेन रोकने की कोशिश

बंद को लेकर बोकारो में रेल परिचालन रोकने की कोशिश की गयी. शहर में बंद समर्थकों ने राजधानी ट्रेन को रोकने का प्रयास किया. लेकिन मौके पर तैनात पुलिस कर्मियों ने तुरंत ही बंद समर्थकों को वहां से हटा दिया और रेल परिचालन को प्रभावित नहीं होने दिया. यह बंद जेवीएम के कार्यकर्ताओं द्वारा कराने की कोशिश की गयी.

इसे भी पढ़ें:-चतराः जबरन दुकानें बंद करा रहें समर्थक गिरफ्तार, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

हांथ में पार्टी का झंडा लिए कार्यकर्ता रेलवे ट्रैक पर उतर गए और प्रदर्शन करने लगे. हांलाकि पुलिस ने उन्हें प्रदर्शन करने नहीं दिया और ट्रैक से हटा दिया. दूसरी और जेवीएम के कुछ बंद समर्थक सड़क पर उतर गए और रांची-पटना-बोकारो मार्ग को जाम करने का प्रयास किया. गौरतलब है कि डॉ प्रकाश सिंह के नेतृत्व में जाम का प्रयास किया गया.

इसे भी पढ़ें:-बंद का कई जिलों में दिखा असर, कहीं रोड जाम तो कहीं रोकी ट्रेन

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: