न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आईएमए की बैठक : डॉक्‍टर बोले : लागू हो मेडिकल प्रोटोक्‍शन एक्ट

594

Ranchi: आईएमए भवन रांची में रविवार को आइएमए झारखंड स्टेट एग्जिक्यूटिव कमेटी की मीटिंग हुई. इसमें मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट, क्लीनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट, टीवी उन्मूलन, मेंबरशिप, फाइनांशियल स्टेटस, आईएमए मैगजीन को शुरू करने, मिशन पिंक हेल्थ आदि विभिन्न एजेंडा पर चर्चा हुई. इसमें कुछ नई कमिटियां बनाई गई और पुरानी कमिटी का पुनर्गठन किया गया. झारखंड स्टेट कमिटी में डॉ गणेश प्रसाद और डॉ. एसके गुप्ता को वाइस प्रेसिडेंट के रूप में शामिल किया गया. आईएमए की  हॉस्पिटल बोर्ड ऑफ इंडिया के चेयरमैन डॉ. आरएस दास, वाइस चेयरमैन डॉ. अमित मोहन, सेक्रेटरी सुशील कुमार को चुना गया. वहीं आईएमए वीमेंस विंग में डॉ. ब्यूटी बनर्जी को  वाइस प्रेसिडेंट, डॉ प्रभा रानी प्रसाद सेक्रेटरी चुनी गई. आईएमए द्वारा चलाए जाने वाले प्रोग्राम बिंग हेल्थ के चेयरमैन डॉ. अमिता, सेक्रेटरी डा. सांत्वना शरण, स्टेट सेक्रेटरी डा. किरण कुमारी को चुना गया. आईएमए हेल्थ सर्विस एसोसिएशन के चेयरमैन विमलेश सिंह को बनाया गया.

झोलाछाप डॉक्टरों की वजह से हो रही बदनामी

silk_park

डॉ प्रदीप सिंह ने बताया कि इस मीटिंग में टीवी उन्मूलन कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कमिटी बनाई गई है. मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट के बारे में बताते हुए कहा कि पिछले बार विधानसभा सत्र सही से नहीं चल पाया था. उम्मीद है इस बार विधानसभा सत्र में मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट पास हो जाएगा. उन्होंने कहा कि  झोलाछाप डॉक्टरों को डॉक्टर कहा जाता है और उनकी गलत इलाज के वजह से डॉक्टर बदनाम होते हैं. इसलिए उन्हें डॉक्टर नहीं कहा जाए, झोलाछाप कहा जाए. सरकार के अनुरोध के बाद झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई के लिए सिविल सर्जन को अभियान चलाने का निर्देश दिया गया था. कई जिलों में अभियान चलाया गया लेकिन रांची में अभियान शिथिल है. यह जानकारी प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी गई. मौके पर डॉ अजय कुमार सिंह, डॉ. विमलेश सिंह, डॉ भारती कश्यप, डॉ अजीत आदि मौजूद रहे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: