JharkhandRanchi

बहुचर्चित अलकतरा घोटाले में इलियास हुसैन को चार साल की सजा, दो लाख का जुर्माना

Ranchi: बहुचर्चित अलकतरा घोटाला मामले में रांची की सीबीआई स्पेशल कोर्ट ने बिहार के पूर्व मंत्री इलियास हुसैन को दोषी करार देते हुए 4 वर्ष सश्रम कारावास की सज़ा सुनाई है. साथ ही 2 लाख रूपए का जुर्माना भी लगाया है.

इसे भी पढ़ेंःसुधीर त्रिपाठी को मिलेगा एक्सटेंशन या डीके तिवारी होंगे नए CS, फैसला कल !

इसके अलावे उनके दो साथियों को भी चार-चार साल की सजा सुनाई गई है. साथ ही दो लाख का जुर्माना भी लगाया है. इलियास हुसैन फिलहाल बिहार की डेहरी सीट से राजद के विधायक हैं. बता दें कि इलियास हुसैन लालू प्रसाद परिवार के काफी करीबी भी माने जाते हैं.

Catalyst IAS
ram janam hospital

साल 1992 का है मामला

The Royal’s
Sanjeevani

यह मामला साल 1992 का है, जिसमें करीब 375 मीट्रिक टन अलकतरा की गड़बड़ी का था. इससे सरकार को 18 लाख रुपये के राजस्व की हानि हुई थी. इस मामले में पूर्व मंत्री इलियास हुसैन, उनके निजी सचिव सहाबु्द्दीन बेग, सहायक अभियंता शोभा सिन्हा, पीएंडटी के निदेशक केदार पासवान, उपनिदेशक मुजताबा अहमद समेत आठ लोग आरोपी बनाये गये थे. सीबीआई के विशेष न्यायाधीश अनिल कुमार मिश्र की अदालत ने गुरुवार को फैसला सुनाया है.

इसे भी पढ़ें- माइक पकड़ते ही पाकुड़ डीसी हो गए बेकाबू ! अधिकारियों को कहा निकम्मा, की बहुत सारी अनर्गल बातें

24 सितंबर को दर्ज कराए थे बयान

इससे पहले 24 सितम्बर को इलियास हुसैन समेत आठों आरोपियों के बयान सीबीआई कोर्ट में दर्ज कराए गए थे. 15 सितम्बर को इस मामले में अभियोजन साक्ष्य बंद हो गए थे.

 इसे भी पढ़ेंःबच्चों की किताबों पर हर साल 150 करोड़ का वारा न्यारा, खेल में ब्यूरोक्रेट्स भी खिलाड़ी

Related Articles

Back to top button