JharkhandRanchi

वसूली का जरिया बन रहे तुपुदाना क्षेत्र में चल रहे अवैध क्रशर 

विज्ञापन

Ranchi: राजधानी रांची के तुपुदाना ओपी क्षेत्र में संचालित हो रहे क्रशर में से कई ऐसे क्रशर हैं जो अवैध रूप से संचालित हो रहे हैं. नाम नहीं छापने के शर्त पर क्रशर कारोबार से जुड़े व्यक्ति ने बताया कि ऐसे क्रशर पुलिस और पीएलएफआई उग्रवादी संगठन के लिए वसूली का जरिया बना हुआ है. तुपुदाना क्षेत्र में चल रहे अवैध क्रशर को ना तो पुलिस पकड़ रही है और ना ही खनन विभाग इस पर कोई कार्रवाई कर रहा है.

अवैध क्रशर के कारण हो रहा नुकसान

क्रशर के कारोबार से जुड़े लोगों से बात करने पर उन्होंने बताया कि हमलोगों के पास क्रशर के वैध कागजात हैं, लेकिन इस क्षेत्र में कई अवैध क्रशर संचालित हो रहे हैं.  इसकी वजह से हमलोगों को नुकसान उठाना पड़ता है. अवैध क्रशर वालों के द्वारा कम दाम में ही चिप्स बेच दिया जा रहा है. जिसके कारण हमें नुकसान होता है.

इसे भी पढ़ें- 2019 झारखंड विधानसभा चुनाव : जानें वो हॉट और विवादित सीट जिसपर जीत तय करेगा सरकार का मुस्तकबिल

advt

हर महीने वसूली जा रही लेवी

सूत्रों के मुताबिक पीएलएफआइ उग्रवादी तुपुदाना इलाके के क्रशर व्यवसायियों से लेवी लेते हैं. कई कारोबारी हर महीने बंधी-बंधाई रकम की लेवी देते हैं. उग्रवादियों द्वारा क्रशर व्यवसायियों से 5 से 10 हजार रुपये प्रतिमाह, बड़े व्यवसायियों व जमीन कारोबारियों से 20 से 50 हजार रुपये हर महीने तक की लेवी वसूली जाती है.

लेवी नहीं देने पर उग्रवादियों द्वारा जान से मारने की धमकी भी दी जा रही है. सूचना है कि अवैध क्रशर कारोबारियों के द्वारा पुलिस का भी ख्याल रखा जा रहा है. जिसके बदले पुलिस उनपर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं करती है.

इसे भी पढ़ें- #SC ने कुछ राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक करार देने की मांग वाली याचिका खारिज की, कहा, यह काम सरकार का है

लीज कहीं का और संचालित हो रहा कहीं और

विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक तुपुदाना क्षेत्र में संचालित हो रहे कई क्रशर ऐसे हैं जिनका लीज कहीं और का है लेकिन खनन विभाग की मिलीभगत से तुपुदाना क्षेत्र में संचालित हो रहे हैं.

adv

इसके अलावा इस क्षेत्र में संचालित हो रहे क्रशर ऐसे भी हैं जिसके पूरे कागजात मौजूद नहीं हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इन सब के अलावे ऐसे क्रशर संचालित हो रहे हैं जिनके पास कोई भी कागजात नहीं है.

इसे भी पढ़ें- शर्मनाक: रांची के हरमू में बच्चे का सर कटा शव बरामद, कुत्ता लेकर घूम रहा था सर

कार्रवाई के बाद फिर शुरू हुआ अवैध क्रशर का कारोबार

रांची के तत्कालीन सदर एसडीओ गरिमा सिंह के द्वारा तुपुदाना ओपी क्षेत्र में संचालित हो रहे अवैध क्रशर के खिलाफ कार्रवाई की गयी थी. जिसके बाद अवैध क्रशर का कारोबार कुछ दिनों के लिए रुक गया था. लेकिन इसके बाद फिर से इस क्षेत्र में अवैध क्रशर का कारोबार शुरू हो गया है.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button