न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आईआईएम रांची का दो दिवसीय मैनेजमेंट फेस्ट एगोन सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ हुआ संपन्न

देश भर के चुनिंदा प्रबंधन संस्थान के छात्र-छात्राओं ने की कई कार्यक्रमों में शिरकत

154

Ranchi: भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) रांची का दो दिवसीय मैनेजमेंट फेस्ट एगोन-4.0 का रविवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ संपन्न हुआ. आईआईएम के निदेशक प्रो शैलेंद्र कुमार ने सभी प्रतिभागियों का आभार प्रकट करते हुए एगोन की सफलता के लिए संस्थान के सभी क्लब मेंबर्स को धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि सफल आयोजन में 10 हजार से अधिक प्रविष्टियां आयीं, जो एक रिकार्ड है. उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों में छात्रों को एक प्लैटफार्म पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने का बेहतर मौका मिलता है. उन्होंने बेहतर प्रदर्शन के लिए विजेताओं को पुरस्कृत भी किया.

इसे भी पढ़ें: झारखंड समेत पांच राज्यों में आदिवासी स्वतंत्रता सेनानियों का संग्रहालय बनवा रही है केंद्र सरकार

दूसरे दिन आयोजित की गयी कई प्रतियोगिताएं

hosp3

फेस्ट के दूसरे दिन चुनिंदा प्रबंधन संस्थानों के प्रतिभागियों के लिए आधा दर्जन से अधिक स्पर्द्धाएं आयोजित की गयी. इनमें आईआईएम के छात्रों ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए संस्थान के लिए पहला स्थान अर्जित कर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया. रविवार की स्पर्द्धाओं में कंपनी में किसी की नियुक्ति को लेकर की जानेवाली रोजगार की प्रक्रियाओं पर तीन सौ से अधिक ने अपने-अपने नुस्खे प्रस्तुत किये. आईआईटी खड़गपुर की टीम ने बाजी मारते हुए सबको पछाड़ दिया. वहीं अन्य सभी प्रतिर्स्पद्धा में मेजबान आईआईएम की टीम विजयी रही. आईआईएम रांची ने किसी भी विषय पर केस स्टडी तैयार करने की प्रतियोगिता में आईआईएम इंदौर, मुंबई, एक्सएलआरआई, आईएमटी दिल्ली को परास्त कर खिताबी जीत हासिल की. जीवंत केस स्टडी की अन्य बाजी, वार ऑफ वर्ड्स, क्यू आर कोड क्विज र्स्पद्धा में भी संस्थान ने अपना सिक्का कायम रखा. अंत में खेल गांव परिसर में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित की गयी. एक्सएलआरआई, आईआईटी खड़गपुर, आईआईएम रांची और अन्य संस्थानों के छात्रों ने गीत-संगीत के जरिये सबका मन मोह लिया. छात्रों ने भारतीय संस्कृति पर आधारित नृत्य के अलावा बालीवुड, हॉलीवुड और अन्य गीतों और स्वर लहरियों से अतिथियों को लुभाया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: