न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

IIM रांची का नया कैंपस NBCC की देख रेख में बनेगा

कोर कैपिटल एरिया में बनेगा IIM रांची का नया कैंपस, सरकार ने दी 25 एकड़ जमीन

112

Ranchi : भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) रांची के नये कैंपस के निर्माण को लेकर एनबीसीसी (इंडिया) लिमिटेड को प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कंसलटेंट बनाया गया है. नये कैंपस निर्माण को लेकर निकाली गयी निविदा में मेकॉन लिमिटेड, एनबीसीसी, एनपीसीसी लिमिटेड और राइ्टस लिमिटेड सरीखी कंपनियों ने आवेदन दिया था. इसमें से एनबीसीसी का चयन सर्वाधिक अंक आने की वजह से किया गया है. एनबीसीसी अब नये कैंपस के पहले चरण के काम को लेकर निविदा निकालकर कांट्रैक्टर कंपनी का चयन करेगी. पहले चरण के कार्य में 400 करोड़ रुपये खर्च कर 61800 वर्ग मीटर का निर्माण कार्य पूरा करना है. जानकारी के अनुसार, पहला चरण डेढ़ वर्षों में पूरा किया जायेगा. इसको लेकर पूरे इंजीनियरिंग कार्य और उसकी प्रगति का सफल क्रियान्वयन कराने की जिम्मेवारी एनबीसीसी की होगी.

इसे भी पढ़ें – 17 जिलों को अब तक नहीं मिली 14वें वित्त आयोग की राशि, राज्यभर के मुखिया कलमबंद हड़ताल पर

कोर कैपिटल एरिया में होगा निर्माणकार्य

आईआईएम रांची का नया कैंपस कोर कैपिटल एरिया में बनाया जायेगा. राज्य सरकार की तरफ से आईआईएम रांची के लिए 25 एकड़ की जमीन दी गयी है. सरकार की ओर से दी गयी जमीन में ही यह निर्माणकार्य किया जाना है. पहले चरण में प्रशासनिक भवन, छात्रावास, डायनिंग हॉल (स्टूडेंट्स), डायनिंग हॉल स्टाफ के लिए, फैकल्टी ब्लॉक, लाईब्रेरी, बिजली सब स्टेशन, कंप्यूटर लैब, फैकल्टी के रहने का आवास, स्टॉफ आवास (ए ब्लाक और सी ब्लाक), निदेशक का आवास और अन्य बुनियादी सुविधाओं को विकसित किया जायेगा. जानकारी के अनुसार, फिलहाल आईआईएम रांची की कक्षाएं सूचना भवन और एक किराये के भवन में संचालित की जा रही हैं. आईआईएम के स्टूडेंट्स के लिए होटवार स्थित खेलगांव में छात्रावास की सुविधा दी गयी है.

इसे भी पढ़ें – आदर्श ग्राम हाहाप में डकैती करने आये अपराधी चढ़े ग्रामीणों के हत्थे, पिटाई से एक अपराधी की मौत

क्या-क्या बनेगा पहले चरण में

पहले चरण में इन भवनों का निर्माण किया जायेगा.

प्रशासनिक भवन      3000 वर्ग मीटर

स्टूडेंट्स छात्रावास     18000 वर्ग मीटर

स्टूडेंट्स डायनिंग हॉल  2000 वर्ग मीटर

स्टाफ डायनिंग हॉल   2500 वर्ग मीटर

silk_park

फैकल्टी ब्लॉक       3000 वर्ग मीटर

लाईब्रेरी              6000 वर्ग मीटर

प्रशासनिक भवन      4000 वर्ग मीटर

कंप्यूटर लैब          6000 वर्ग मीटर

सब स्टेशन का निर्माण 8000 वर्ग मीटर

फैकल्टी रेसीडेंस              8000 वर्ग मीटर

स्टाफ क्वार्टर (ब्लाक-ए)      1500 वर्ग मीटर

स्टाफ क्वार्टर (ब्लाक-सी) 1000 वर्ग मीटर

फर्स्ट फेज (निर्माणकार्य)        61800 वर्ग मीटर

इसे भी पढ़ें – न्यूज विंग ब्रेकिंग: झारखंड में फाइनांशियल क्राइसिस! ट्रेजरी में सिर्फ 200 करोड़, ठेकेदारों और आपूर्तिकर्ताओं की देनदारी महीनों से बंद

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: