Education & CareerJharkhandNEWS

आईआईएम रांची: पांच वर्षीय एमबीए कोर्स में एडमिशन का मौका, 30 जून तक करें आवेदन

पहले बैच में 120 सीटों पर लिया जायेगा एडमिशन

Ranchi: इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट रांची ने अपने पांच वर्षीय एमबीए कोर्स में एडमिशन शुरू कर दिया है. पहला बैच 2021 से 2026 के लिए शुरू हो रहा है. इस कोर्स में सैट स्कोर के आधार पर एडमिशन होगा. इसके लिए 30 जून तक आवेदन दे सकते हैं. वहीं वैसे स्टूडेंट्स जो 31 अगस्त तक 12वीं की योग्यता पूरा कर लेते हैं, वे भी  आवेदन के योग्य होंगे. पर इस तारीख तक उनके पास सैट स्कोर भी  होना चाहिए. एडमिशन से संबंधित जानकारी आईआईएम रांची ने नोटिस जारी कर दी है. पहले बैच में 120 सीट के लिए एडमिशन लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें: पेट्रोल की कीमतों में लगी आग, MP में 100 से पार, मुंबई में 94.62, रांची में रेट 86.79 रुपये

14 लाख रुपये एंटीग्रेटेड प्रोग्राम के लिए फीस निर्धारित:

इस पांच वर्षीय एंटीग्रेटेड प्रोग्राम के लिए आईआईएम रांची ने 14 लाख रुपये फीस निर्धारित किया है. इसमें हॉस्टल रूम चार्ज और मेस चार्ज अलग से लिया जायेगा. इस कोर्स में 12वीं पास विद्यार्थी एडमिशन ले सकते हैं. एडमिशन के लिए 12वीं में संकाय की बाध्यता नहीं है. सामान्य श्रेणी के स्टूडेंट्स के लिए 12 वीं में 60 फीसदी और आरक्षित श्रेणी के लिए 55 फीसदी अंक जरूरी है.

इसे भी पढ़ें: 13 जून को होगी क्लैट की परीक्षा, एडमिशन के लिए 31 मार्च तक करें आवेदन

ऐसा है कोर्स करिकूलम:

इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन मैनेजमेंट पूरे पांच साल का कोर्स है. इसे पूरा करने के बाद यह एमबीए के समतुल्य होगा. इस कोर्स में कुल 15 टर्म्स होंगे. कोर्स को दो हिस्सों में बांटा गया है. पहला हिस्सा तीन साल का होगा जिसे फाउंडेशन कहते हैं. दूसरा दो साल संस्थान के अनुसार पूरी तरह मैनेजमेंट पर फोकस होगा. यह कोर्स मैनेजमेंट और सोशल साइंस का मिश्रण है. फाउंडेशन के दौरान विद्यार्थियों को सोशियोलॉजी, साइकोलॉजी, लिटरेचर, फाइन आर्ट्स, ह्यूमैनिटीज, मैथ्स, इकोनॉमिक्स, स्टैटिस्टिक्स, पॉलिटिकल साइंस पढ़ाया जायेगा.  दो वर्ष पूरे होने पर विद्यार्थियों को एक सोशल इंटर्नशिप भी  करना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें:सूबे के सात लाख लाभुकों को मिलेगा दो माह का राशन

इस टेस्ट के स्कोर के आधार पर मिलेगा एडमिशन:

इस पांच वर्षीय एंटीग्रेटेड प्रोग्राम में एसएटी (स्कॉलिस्टिक एडमिशन टेस्ट) के स्कोर के आधार पर एडमिशन मिलेगा. यह टेस्ट एक साल में पांच बार लिया जाता है. जो मार्च, मई, अगस्त, अक्टूबर और दिसंबर में लिया जाता है. यह देश के 70 शहरों में 73 सेंटर्स पर लिया जाता है. यह टेस्ट रांची में होगा.

इसे भी पढ़ें:पीएम मोदी ने सेना को सौंपी उन्नत अर्जुन टैंक की चाबी

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: