न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अब आइएफएस और डेवलपमेंट प्रोफेशनल्स नहीं बन सकेंगे डीडीसी, अफसरों ने नहीं दिखाई रूचि, पद वापस

डीडीसी के 18 पदों पर राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों की ही तैनाती होगी, जो ज्वाइंट सेक्रेट्री रैंक के अफसर होंगे

1,562

पहले राज्य प्रशासनिक सेवा के 12 अफसरों को ही डीडीसी के पद पर तैनात करने का आदेश जारी किया गया था

mi banner add

Ranchi:  अब भारतीय वन सेवा (आइएफएस) के साथ डेवलपमेंट प्रोफेसनल्स की नियुक्ति डीडीसी (उप विकास आयुक्त) के पद पर नहीं होगी. अब राज्य प्रशासनिक सेवा के लिए चिन्हित सभी 18 पदों पर ज्वाइंट सेक्रेट्री रैंक के अफसरों की ही तैनाती होगी. इससे पहले ग्रामीण विकास विभाग के संकल्प संख्या 977 द्वारा उप विकास आयुक्त के पदस्थापन और नियुक्ति के लिए राज्य प्रशासनिक सेवा के पदों को घटा दिया गया था. राज्य प्रशासनिक सेवा के 18 पद डीसीसी के लिए थे. इसे घटा कर 12 कर दिया गया था. जारी आदेश में कहा गया था कि छह पदों पर आइएफएस और डेवलपमेंट प्रोफेनल्स की नियुक्ति की जायेगी. जिसे 11 फरवरी 2016 को हुई कैबिनेट की बैठक में मंजूरी भी दी गई थी.

इसे भी पढ़ेंः कोलकाता: एसटीएफ ने जब्त किये एक हजार किलो विस्फोटक, दो गिरफ्तार

आइएफएस अफसर व डेवलपमेंट प्रोफेनल्स ने नहीं दिखाई रूचि

अब जारी आदेश में कहा गया है कि ग्रामीण विकास विभाग द्वारा जारी संकल्प के निर्गत होने के बाद लगभग चार साल के दौरान डेवलपमेंट प्रोफेशनल्स को उप विकास आयुक्त के पद पर पदस्थापन नहीं किया जा सका. वहीं भारतीय वन सेवा (आइएफएस) के दो अफसर खूंटी और पाकुड़ में उप विकास आयुक्त के पद पर पदस्थापित किये गये लेकिन वे काफी कम समय तक ही डीडीसी के पद पर रहे. इसके पीछे तर्क दिया गया कि आइएफएस अफसरों और डेवलपमेंट प्रोफेशनल्स ने इस पद के लिए रूचि नहीं दिखायी.

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

इसे भी पढ़ेंः राज्य कर्मियों की तरफ से टीडीएस का ब्योरा नहीं दिये जाने से हो रहा है वेतन में विलंब

सरकार ने क्या लिया निर्णय

भारतीय वन सेवा और डेवलपमेंट प्रोफेनल्स के लिए चिन्हित पदों पर नियुक्ति नहीं किये जाने और भारतीय वन सेवा के पदाधिकारियों को अल्प अवधि तक डीडीसी के पद पर पदस्थापित किये जाने की स्थिति में छह पदों का छोड़ा जाना प्रासंगिक प्रतीत नहीं होता है. इस कारण आइएफएएस और डेवलपमेंट प्रोफेशनल्स के लिए छह पदों पर राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों की ही तैनाती की जायगी. राज्य प्रशासनिक सेवा के 120 पद संयुक्त सचिव रैंक के हैं, जिसमें अब डीडीसी के 18 पद राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों के लिए ही होंगे. कार्मिक ने इसका आदेश जारी कर दिया है.

इसे भी पढ़ेंः गिरिडीह लोकसभाः सांसद रविंद्र पांडेय, विधायक ढुल्लू महतो और संपादक शिवशक्ति बख्शी अब क्या करेंगे ?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: