न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

यदि सरकार पूर्ण बजट पेश करेगी तो यह संविधान, लोकतंत्र का अपमान होगा : कांग्रेस

अगर सरकार पूर्ण बजट पेश करेगी तो यह संविधान, लोकतंत्र और सात दशकों की परंपरा का अपमान होगा. किसी भी सरकार को छह पूर्ण बजट पेश करने का अधिकार नहीं होता.

35

NewDelhi : अगर सरकार पूर्ण बजट पेश करेगी तो यह संविधान, लोकतंत्र और सात दशकों की परंपरा का अपमान होगा. किसी भी सरकार को छह पूर्ण बजट पेश करने का अधिकार नहीं होता. क्योंकि जनादेश इसकी इजाजत नहीं देता. यह कहना है कांग्रेस का. बता दें कि कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने नरेंद्र मोदी सरकार की ओर से चुनावी सीजन में पूर्ण बजट पेश होने की अटकलों पर निशाना साधा है. तिवारी ने कहा कि मोदी सरकार अपना पांच पूर्ण बजट पेश कर चुकी है. मोदी सरकार सिर्फ 46 दिन के कार्यकाल के लिए 365 दिन का बजट पेश नहीं कर सकती.

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार लोकलुभावन वायदों की ख़ातिर पूर्ण बजट पेश करना चाह रही है. यह पूरी तरह से गलत है.

मोदी सरकार सिर्फ अनुदान मांग रखे

hosp3

कांग्रेस की मांग है कि मोदी सरकार सिर्फ अनुदान मांग रखे, ताकि लोकतंत्र और परंपरा का उल्लंघन न हो. तिवारी ने कहा कि अखबारों और टीवी चैनलों की रिपोर्ट से जानकारी मिल रही है कि सरकार पूर्ण वित्तीय बजट पेश करने की कोशिश कर रही है. सरकार के पास ऐसा करने का नैतिक और संवैधानिक अंधिकार नहीं है. मनीष तिवारी ने कहा कि चुनाव आयोग को चुनाव प्रक्रिया को देखना चाहिए. अमेरिका में इलाज करा रहे वित्त मंत्री अरुण जेटली को लेकर कयास लगाये जा रहे थे कि वे इस साल अंतरिम बजट पेश नहीं करेंगे. लेकिन  मोदी सरकार ने वित्त मंत्री का अतिरिक़्त प्रभार रेलमंत्री पीयूष गोयल को सौंप दिया है.

कहा जा रहा है कि पीयूष गोयल बजट पेश करेंगे.   जेटली का पिछले साल किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था, इसके बाद वे इस बार नियमित जांच के लिए अमेरिका गए हैं. उनके अमेरिका रवाना होने के बाद ये सवाल उठने लगे थे कि क्या वे बजट के दौरान मौजूद होंगे या नहीं?

इसे भी पढ़ेंः 2019 लोकसभा चुनाव : एबीपी न्यूज और सी-वोटर के सर्वे में मोदी लहर नहीं, लोकसभा होगी त्रिशंकु

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: