Jamshedpur

चाईबासा-हाटगम्हरिया सड़क एक माह में नहीं बनी तो आर्थिक नाकेबंदी : मधु कोड़ा

 

Jamshedpur : चाईबासा-हाटगम्हरिया के बीच की सड़क अगर एक माह के भीतर नहीं बनी तो आर्थिक नाकेबंदी करने का काम किया जाएगा. यह चेतावनी राज्य के पूर्व सीएम मधु कोड़ा ने पथ निर्माण विभाग के सचिव को पत्र लिखकर दी है. इसकी घोषणा उन्होंने चाईबासा कांग्रेस भवन में आयोजित प्रेसवार्ता में की.

लोगों की जीवन रेखा का है मुख्य साधन

Catalyst IAS
SIP abacus

कोड़ा ने कहा कि यह पथ दो राज्यों को जोड़ने वाली मुख्य सड़क है. झारखंड के कोल्हान प्रमंडल की आर्थिक वृद्धि और लोगों की जीवन रेखा की मुख्य साधन है. ओड़िशा और झारखंड की लौह अयस्क, मैंगनीज अयस्क, लाईम स्टोन की परिवहन का कार्य एनएच 75 ई पथ से होकर ही चलती है. पथ से टाटा कंपनी और छोटे-बड़े निजी सरकारी तथा अदअधसरकारी उधोग की माल का परिवहन निर्भर है. इससे केन्द्र और राज्य सरकार को प्रतिवर्ष हजारों करोड़ का राजस्व प्राप्त होता है. फिलहाल पथ पर दो पहिया और मल्टी स्केल भारी गाड़ी चलना भी मुश्किल हो रहा है. माल ढुलाई के साथ-साथ यात्री बस गाड़ी भी नहीं चल पा रही रहा है.

MDLM
Sanjeevani

सांसद ने भी कई बात लिखा है पत्र

इस संबंध में स्थानीय सांसद ने राज्य सरकार को कई बार निर्माण के लिए पत्र लिखा है. अबतक एनएच 75 ई पथ को जीर्णोद्धार या पुनः निर्माण हेतु कोई कार्रवाई नहीं की गयी है.  बावजूद महत्वपूर्ण सड़क नहीं बनने से क्षेत्र के लोगों में आक्रोश है.

चरणबद्ध होगा आंदोलन

सड़क का काम शुरू नहीं कराया जाता है तो मजबूर होकर सड़क से लेकर सदन तक चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा. आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सम्पूर्ण आर्थिक नाकेबंदी की जाएगी. इसकी जिम्मेदारी केन्द्र सरकार और राज्य सरकार की होगी. प्रेस वार्ता में कांग्रेस नेता त्रिशानु राय, जितेन्द्र नाथ ओझा, अविनाश कोड़ा, राकेश कुमार सिंह आदि मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- PM मोदी, अमित शाह और प्रियंका चोपड़ा के नाम पर वैक्सीन के मामले में जिम्मेदार कर्मचारियों पर हुई कार्रवाई

Related Articles

Back to top button