न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नक्शा के नाम पर कोई पैसा मांगे तो करें शिकायत : मेयर

नोटिस मिलते ही मेयर से मिला बिल्डर एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल 

108

Dhanbad : नक्‍शा पास कराने के एवज में अगर कोई भी  बिल्डर से नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी पैसे की मांग करता है तो  इसकी सूचना जरूर दें. ऐसे घूसखोर कर्मचारियों पर उचित  कार्रवाई की जाएगी. ये बातें मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल ने बुधवार को बिल्डरों के साथ निगम कार्यालय में बैठक के दौरान कही. उन्होंने कहा कि नक्‍शा पास कराने के एवज में किसी बिल्डर को एक पैसा नाजायज नहीं देना है. इस संबंध में अधिकारियोंं को भी सख्त हिदायत दी गई है.

इसे भी पढ़ेंः स्वस्थ समाज से ही समृद्ध एवं विकसित राज्य का होगा निर्माण : सीएम

जिले के 36 बिल्डरों को नोटिस

नगर निगम द्वारा बिल्डरों को दी जा रही नोटिस के सवाल पर बिल्डर एसोसिएशन के अध्यक्ष विनय सिंह की अगुवाई में जिले के अधिकांश बिल्डर मेयर से वार्ता करने उनके कार्यालय पहुंचे थे. गौरतलब है कि झारखंड म्यूनिसिपल एक्ट 2011 बिल्डिंग बायलॉज के तहत निगम जिले के सभी बिल्डरों को नोटिस थमा रही है. नोटिस में कहा गया है कि जिस नक्से के आधार पर बिल्डिंग निर्माण कर रहे है उस नक्‍शे के साथ निगम में उपस्थित होकर बिल्डर अपना पक्ष रखें. नगर निगम अब तक जिले के 36 बिल्डरों को नोटिस भेज चुकी है. यह संख्या अभी और बढ़ने वाली है.

इसे भी पढ़ेंः राधानगर में ग्रामीणों की जमीन लूट पर होगा विद्रोह: डॉ प्रकाश

palamu_12

निगम से नहीं हो रहा नक्‍शा पास 

बिल्डरों के साथ हुई वार्ता के उपरांत मेयर ने पत्रकारों को बताया कि पहले माडा नक्‍शा पास करती थी. माडा द्वारा पास नक्‍शे की अवधि 2 साल की होती थी. अब निगम क्षेत्र में नक्‍शा पास करने का अधिकार निगम के पास है. अभी वर्तमान में कई बिल्डिंग निर्माण कार्य चल रहे है जबकि निगम से नक्‍शा पास नहीं हो रहा. हालांकि माडा को देखते हुए निगम की ओर से कार्रवाई धीमी थी. समय सीमा खत्म होने के बाद निगम ने कदम बढ़ाया है. जिले के अंदर 200  से ज्यादा बिल्डिंग निर्माण कार्य चल रहे हैं. उन सभी को नोटिस जायेगी. उन्होंने बताया कि नोटिस देखकर किसी बिल्डर को घबराने की जरूरत नहीं है. झारखंड सरकार ने बिल्डिंग बायलॉज बनाया है. उसके तहत बिल्डिंग निर्माण हो रहा है अथवा नहीं यह देखना निगम का काम है.

बिल्डरों को नक्‍शा दिखाना है जिनके पास नक्‍शा नहीं होगा, उन्हें नक्‍शा पास कराना है. मेयर से हुई वार्ता के संबंध में विनय सिंह ने कहा कि वार्ता में एसोसिएशन सभी तरह की समस्या से अवगत करा दिया है. निगम और बिल्डर के बीच समन्वय स्थापित करने पर विशेष जोर दिया गया. नोटिस के सवाल पर उन्होंने कहा कि निगम अपना काम कर रही है. बिल्डर सभी नियमों का पालन करते हुए ही कार्य करती है. किसी तरह के विचलन की कहीं कोई बात नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: