न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नक्शा के नाम पर कोई पैसा मांगे तो करें शिकायत : मेयर

नोटिस मिलते ही मेयर से मिला बिल्डर एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल 

135

Dhanbad : नक्‍शा पास कराने के एवज में अगर कोई भी  बिल्डर से नगर निगम के अधिकारी व कर्मचारी पैसे की मांग करता है तो  इसकी सूचना जरूर दें. ऐसे घूसखोर कर्मचारियों पर उचित  कार्रवाई की जाएगी. ये बातें मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल ने बुधवार को बिल्डरों के साथ निगम कार्यालय में बैठक के दौरान कही. उन्होंने कहा कि नक्‍शा पास कराने के एवज में किसी बिल्डर को एक पैसा नाजायज नहीं देना है. इस संबंध में अधिकारियोंं को भी सख्त हिदायत दी गई है.

इसे भी पढ़ेंः स्वस्थ समाज से ही समृद्ध एवं विकसित राज्य का होगा निर्माण : सीएम

जिले के 36 बिल्डरों को नोटिस

hosp3

नगर निगम द्वारा बिल्डरों को दी जा रही नोटिस के सवाल पर बिल्डर एसोसिएशन के अध्यक्ष विनय सिंह की अगुवाई में जिले के अधिकांश बिल्डर मेयर से वार्ता करने उनके कार्यालय पहुंचे थे. गौरतलब है कि झारखंड म्यूनिसिपल एक्ट 2011 बिल्डिंग बायलॉज के तहत निगम जिले के सभी बिल्डरों को नोटिस थमा रही है. नोटिस में कहा गया है कि जिस नक्से के आधार पर बिल्डिंग निर्माण कर रहे है उस नक्‍शे के साथ निगम में उपस्थित होकर बिल्डर अपना पक्ष रखें. नगर निगम अब तक जिले के 36 बिल्डरों को नोटिस भेज चुकी है. यह संख्या अभी और बढ़ने वाली है.

इसे भी पढ़ेंः राधानगर में ग्रामीणों की जमीन लूट पर होगा विद्रोह: डॉ प्रकाश

निगम से नहीं हो रहा नक्‍शा पास 

बिल्डरों के साथ हुई वार्ता के उपरांत मेयर ने पत्रकारों को बताया कि पहले माडा नक्‍शा पास करती थी. माडा द्वारा पास नक्‍शे की अवधि 2 साल की होती थी. अब निगम क्षेत्र में नक्‍शा पास करने का अधिकार निगम के पास है. अभी वर्तमान में कई बिल्डिंग निर्माण कार्य चल रहे है जबकि निगम से नक्‍शा पास नहीं हो रहा. हालांकि माडा को देखते हुए निगम की ओर से कार्रवाई धीमी थी. समय सीमा खत्म होने के बाद निगम ने कदम बढ़ाया है. जिले के अंदर 200  से ज्यादा बिल्डिंग निर्माण कार्य चल रहे हैं. उन सभी को नोटिस जायेगी. उन्होंने बताया कि नोटिस देखकर किसी बिल्डर को घबराने की जरूरत नहीं है. झारखंड सरकार ने बिल्डिंग बायलॉज बनाया है. उसके तहत बिल्डिंग निर्माण हो रहा है अथवा नहीं यह देखना निगम का काम है.

बिल्डरों को नक्‍शा दिखाना है जिनके पास नक्‍शा नहीं होगा, उन्हें नक्‍शा पास कराना है. मेयर से हुई वार्ता के संबंध में विनय सिंह ने कहा कि वार्ता में एसोसिएशन सभी तरह की समस्या से अवगत करा दिया है. निगम और बिल्डर के बीच समन्वय स्थापित करने पर विशेष जोर दिया गया. नोटिस के सवाल पर उन्होंने कहा कि निगम अपना काम कर रही है. बिल्डर सभी नियमों का पालन करते हुए ही कार्य करती है. किसी तरह के विचलन की कहीं कोई बात नहीं है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: