न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फर्जी चेक देकर मोबाइल दुकानदार को चूना लगाने वाले की हुई पहचान

जेवर दुकान के सीसीटीवी कैमरे में दर्ज हुई थी तस्वीर

366

Bokaro : मेन रोड, चास की गीतांजलि गली स्थित शुभम कलेक्शन नामक मोबाइल दुकान के मालिक प्रवीण बोथरा को साढ़े 38 हजार रुपये का चूना लगाने वाले जालसाज की शिनाख्त घटना के तीसरे दिन हो सकी है. यह पहचान पुलिस के स्तर से नहीं, बल्कि खुद भुक्तभोगी दुकानदार के प्रयासों से हो सकी है. भुक्तभोगी का कहना है कि थाने में उन्होंने लिखित चिट्ठी जरूर दी थी, लेकिन थाने में लिया नहीं गया था. एक तथाकथित एसबीआई अधिकारी के द्वारा उनके साथ हुई ठगी की घटना प्रकाश में आने के बाद बाइपास रोड, चास स्थित एक जेवर दुकानदार ने उक्त ठग की पहचान कराने में मदद की.भुक्तभोगी मोबाइल विक्रेता बोथरा के अनुसार सुधा ज्वेलर्स नामक दुकान के मालिक ने उन्हें अपनी दुकान में भी एक एसे ही कथित एसबीआई अधिकारी के आने तथा बड़ी-बड़ी बातें कर ढाई लाख रुपये के माल का आर्डर देने की जानकारी दी. संयोग था कि उनकी दुकान में सीसीटीवी कैमरे लगे थे. जब छानबीन की गयी तो वह वही शख्स निकला, जो प्रवीण बोथरा की दुकान से साढ़े 38 हजार रुपये मूल्य के तीन मोबाइल लेकर चम्पत हो गया था.

इसे भी पढ़ें-हजारीबाग : तापिन कोलिवरी में हुआ हादसा, चार मजदूरों की मौत 

एसबीआई, बोकारो ब्रांच का अधिकारी बताकर ठगा

silk_park

प्रवीण बोथरा के भाई सह व्यवसायी सुरेश बोथरा ने दूरभाष पर बताया कि चेंबर के साथ मिलकर एक प्रतिनिधिमंडल इस मामले में अब एसपी से मिलकर न्याय तथा कार्रवाई की मांग करेगा. उल्लेखनीय है कि गुरुवार को शुभम कलेक्शन नामक दुकान से एसबीआई, बोकारो ब्रांच का अधिकारी बताकर एक ठग ने फर्जी चेक देकर तीन मोबाइल ठग लिये थे. उसने अपना नाम एस मुखर्जी बताया था तथा सम्पर्क करने पर उसका फोन स्विच आफ बताया जाने लगा. बाद में पता चला कि जिस चेक जारीकर्ता का चेक उसने दिया था, उस प्रतिष्ठान से भी फर्जीवाड़ा कर उक्त जालसाज ने ब्लैंक चेक हासिल कर लिये थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: