Corona_UpdatesNational

#CoronaVirus के चमगादड़ कनेक्शन पर ICMR की रिपोर्ट में हुआ ये नया खुलासा

New Delhi: दुनिया भर में कहर मचा रहे कोरोना वायरस के स्रोत का पता अब तक नहीं चल पाया है.

Jharkhand Rai

इस बीच भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) की रिपोर्ट में इसको लेकर एक नया खुलासा हुआ है जिसके मुताबिक भारत में चमगादड़ की दो प्रजातियों में SARS-COV-2 पाया गया है.

आइसीएमआर ने यह पुष्टि अलग-अलग राज्य से लिये गये नमूनों के आधार पर की है. इसके लिए सात राज्यों से सैंपल लिये गये थे.

इन राज्यों में केरल, हिमाचल प्रदेश, पुडुचेरी और तमिलनाडु समेत कई राज्य थे जहां ये टेस्ट पॉजिटिव पाये गये.

Samford

इसे भी पढ़ें : AK 47 तो है पर गोली नहीं, केंद्र से मांगा 300 थर्मल स्कैनर मिला केवल 100: हेमंत सोरेन

मां से बच्चे को हो सकता है संक्रमण

इससे पहले आइसीएमआर ने बताया था कि प्रसव के समय मां से शिशु में कोरोना का संक्रमण संभव है.

आइसीएमआर ने कोरोना वायरस के संक्रमण के बारे में सामने आ रहे सबूतों के आधार पर सोमवार को कहा कि न सिर्फ गर्भावस्था में मां से शिशु में इस वायरस का संक्रमण संभव है बल्कि प्रसव के समय भी मां से बच्चा संक्रमित हो सकता है.

आइसीएमआर ने हालांकि स्पष्ट किया कि गर्भस्थ और नवजात शिशु में संक्रमण के अनुपात का निर्धारण अभी नहीं किया जा सका है.

इसे भी पढ़ें : #Lockdown : बिहार के 130 लाख लोग कोरोना संकट के दौर में आ सकते हैं भूख की चपेट में 

मां के दूध से संक्रमण की पुष्टि नहीं

परिषद ने कहा कि अभी तक मां के दूध में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि करने वाला कोई मामला सामने नहीं आया है.

साथ ही इस तरह के कोई आंकड़े भी उपलब्ध नहीं हैं जो इस वायरस के कारण गर्भपात होने या समय पूर्व प्रसव के खतरे की प्रमाणिक पुष्टि करते हों.

आइसीएमआर ने कोरोना संकट के दौरान मिल रहे प्रमाणों के आधार पर कहा कि मां से नवजात में इस वायरस का संक्रमण पहुंचना संभव है.

इसे भी पढ़ें : कोरोना ने कैसे बिगाड़ी देश की अर्थव्यवस्था, उसकी बानगी बना  COVID-19 HOTSPOT चंद्रपुरा का तेलो

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: