न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

 आईएएस अधिकारी मोहसिन को चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड, पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर की तलाशी ली थी

एसपीजी सुरक्षा से संबंधित आयोग के

786

NewDelhi : ओडिशा में प्रतिनियुक्ति‍ पर तैनात एक आईएएस रैंक के मतदान पर्यवेक्षक मोहम्मद मोहसिन सस्पेंड कर दिये गये हैं.  बता दें कि भारतीय चुनाव आयोग (ईसीआई) ने  मोहसिन को सस्पेंड किया है. खबरों के अनुसार एसपीजी सुरक्षा से संबंधित आयोग के निर्देशों के विपरीत कार्य करने के कारण आईएएस रैंक के इस अधिकारी पर कार्रवाई की गयी.  जान लें कि मंगलवार ,16 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओडिशा दौरे पर गये थे. पर्यवेक्षक मोहम्मद मोहसिन ने वहां सुरक्षा में तैनात एसपीजी से  प्रधानमंत्री मोदी हेलीकॉप्टर की जांच करने का अनुरोध किया था.

चुनाव आयोग के आदेश के अनुसार कर्नाटक कैडर के आईएएस अधिकारी मोहम्मद मोहसिन को 16 अप्रैल को एसपीजी सुरक्षा से संबंधित आयोग के निर्देशों के विपरीत कार्रवाई करने के लिए निलंबित किया गया.  उस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनावी रैली को संबोधित करने के लिए ओडिशा के संबलपुर में थे.  अधिकारियों के अनुसार जनरल ऑब्जर्वर मोहसिन ने प्रधानमंत्री को लाने वाले हेलिकॉप्टर की जांच करने का प्रयास किया था. ओडिशा सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि जब प्रधानमंत्री रैली को संबोधित कर रहे थे.

उस समय अधिकारी मोहसिन हेलिकॉप्टर के पास तैनात एसपीजी के पास पहुंचे और तलाशी का अनुरोध किया.  एसपीजी ने प्रामाणिक दस्तावेज की मांग करते हुए उन्हें तलाशी की अनुमति दे दी.  हालांकि, इससे प्रधानमंत्री के प्रस्थान में 20 मिनट की देरी हो गयी.

इसे भी पढ़ेंःओडिशाः वोटिंग से पहले पोलिंग पार्टी पर माओवादी हमला, चुनाव पर्यवेक्षक की हत्या

अधिकारी के पास तलाशी का आदेश देने का अधिकार नहीं है

Related Posts

पीएम मोदी ने जेटली के निधन पर दुख जताया, परिजनों से की बात, कहा, अनमोल दोस्त खो दिया

जेटली के परिवार ने प्रधानमंत्री मोदी से अपील की है कि वे अपना विदेश दौरा रद्द न करें.

SMILE

ओडिशा सरकार  के अधिकारी  ने कहा कि  जहां तक ​​मुझे पता है, जनरल ऑब्जर्वर (मोहसिन) केवल चुनाव आयोग के कामों को देखते हैं और आयोग को ही रिपोर्ट करते हैं.  अधिकारी के पास तलाशी का आदेश देने का अधिकार नहीं है. मोहसिन के लिंक्डइन प्रोफाइल के अनुसार, वह वर्तमान में कर्नाटक के पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग में सचिव हैं.

चुनाव आयोग की वेबसाइट के अनुसार उन्हें चार अप्रैल से 23 मई तक चार विधानसभा क्षेत्रों के लिए जनरल ऑब्जर्वर के रूप में संबलपुर, कुचिंडा, रेंगाली, संबलपुर और रायराखोल लोकसभा में तैनात किया गया है.  आयोग के आदेश के अनुसार, मुख्य निर्वाचन अधिकारी (ओडिशा), जिला चुनाव अधिकारी (संबलपुर) और डीआईजी (संबलपुर) की रिपोर्ट के बाद मोहसिन के  निलंबन का आदेश जारी किया गया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चुनाव आयोग के आदेश के बाद सोमवार को एक वीडियो सामने आया, जिसमें केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को पुलिस अधिकारियों के साथ तीखी बहस करते हुए दिखाया गया.  बताया जा रहा है कि ये अधिकारी ओडिशा में एक उड़नदस्ते में शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंःदंतेवाड़ाः विधायक भीमा मंडावी की हत्या में शामिल वर्गीस समेत दो नक्सली ढेर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: