न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#HyderabadEncounter : पुलिस कमिश्नर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया, क्यों और कैसे हुआ एनकाउंटर

पुलिस ने कहा कि आज सुबह सीन रीक्रिएशन के लिए हम हम चारों आरोपियों को लेकर गये.  आरोपी आरिफ और चिंताकुटा ने पुलिस से हथियार छीने.

131

Hyderabad : हैदराबाद एनकाउंटर को लेकर साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार ने  प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी  कि आरोपियों ने पुलिस के हथियार छीनकर भागने की कोशिश की थी. इसके बाद पुलिस को गोली चलानी पड़ी. घटना 5.45 से 6.15 के बीच हुई.  प्रेस कॉन्फ्रेंस एनकाउंटर वाली जगह पर की गयी. जान लें कि आरोपियों की ओर से हथियार छीनने की पुष्टि शम्शाबाद के डीसीपी प्रकाश रेड्डी ने की है. एनकाउंटर की बाद की एक तस्वीर भी जारी की गयी है. इसमें एक आरोपी के हाथ में पिस्टल दिख रही है.

पुलिस कमिश्नर  सज्जनार ने बताया कि चारों छंटे हुए अपराधी थे. जब वे हथियार छीनकर भागने लगे तो घटनास्थल पर मौजूद अधिकारियों ने उन्हें चेतावनी भी दी, लेकिन कोई असर नहीं हुआ. बताया कि इस गोलीबारी में दो पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं. इसी क्रम में सज्जनार ने मानवाधिकार आयोग या किसी अन्य संगठन के सवालों पर  कहा कि हम हर सवाल जवाब देने के लिए तैयार हैं.

इसे भी पढ़ें : #Mayawati की यूपी पुलिस को हैदराबाद पुलिस से प्रेरणा लेने की नसीहत,  यूपी पुलिस का जवाब, #Encounter में 103 अपराधी मारे

आरोपी आरिफ और चिंताकुटा ने पुलिस से हथियार छीने

सज्जनार ने बताया, हमने साइंटिफिक तरीके से जांच की थी उसके बाद ही चारों आरोपियों को अरेस्ट किया गया था. पर्याप्त साक्ष्यों के आधार पर गिरफ्तारी की गयी और इसी के तहत 10 दिन की न्यायिक हिरासत कोर्ट ने दी. 4 और 5 दिसंबर को आरोपियों से पूछताछ की गयी. पुलिस ने कहा कि आज सुबह सीन रीक्रिएशन के लिए हम हम चारों आरोपियों को लेकर गये.  आरोपी आरिफ और चिंताकुटा ने पुलिस से हथियार छीने. आरोपियों ने डंडे और पत्थर से पुलिस पर हमला भी किया और भागने की कोशिश की.

hotlips top

दो आरोपियों ने पुलिस के ऊपर गोली भी चलाई. घटना 5.45 से 6.15 के बीच हुई. आरोपियों के पास से दो हथियार भी बरामद किये गये. पुलिस ने बताया, ‘हमने गोली चलाने से पूर्व हमने सरेंडर के लिए कई बार कहा, लेकिन वह पुलिस पर ही हमला कर रहे थे. ऐसी हालत में हमारे कर्मियों को गोली चलानी पड़ी. मारे गये आरोपियों के शव  स्थानीय अस्पताल में मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है. हमारे 2 अधिकारी घायल हुए हैं जिनमें से एक की स्थिति गंभीर है.

इसे भी पढ़ें : #HyderabadEncounter पर सवाल, असदुद्दीन ओवैसी, शशि थरूर, सीताराम येचुरी सवाल पूछने वालों की कतार में

हम एनएचआरसी, राज्य सरकार या किसी भी संगठन का जवाब देने को तैयार  

पुलिस ने एनकाउंटर पर उठ रहे सवालों पर कहा कि हम एनएचआरसी, राज्य सरकार या किसी भी अन्य संगठन के जो भी सवाल हैं उनका जवाब देने के लिए तैयार हैं. साथ ही सीपी ने सोशल मीडिया या अन्य माध्यम पर पीड़िता की पहचान उजागर नहीं करने की अपील की. पुलिस ने बताया कि घटनास्थल से ही पीड़िता का फोन भी बरामद किया गया.

चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, नवीन, शिवा और चेन्नाकेशवुलु को लेकर घटनास्थल पर सीन के रीकंस्ट्रक्शन के लिए पहुंची थी. पुलिस का मकसद था कि सीन का रीकंस्ट्रक्शन करके घटना की कड़ियों को जोड़ा जा सके ताकि उसके लिए पूरे मामले को समझना आसान हो और जांच हो सके.

इसे भी पढ़ें : #HyderabadEncounter : सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने एनकाउंटर को फर्जी करार दिया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like