National

हैदराबाद  : भाग्यलक्ष्मी मंदिर लाइम लाइट में, अमित शाह पहुंचे, पूजा-अर्चना की, सिकंदराबाद में रोड शो किया

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित पार्टी के कई नेता हैदराबाद का दौरा कर चुके हैं.

Hyderabad : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह रविवार को हैदराबाद पहुंचे . शाह ग्रेटर हैदराबाद महानगरपालिका चुनाव के लिए प्रचार अभियान में शामिल होने पहुंचे हैं.  इस क्रम में शाह ने सिकंदराबाद में रोड शो किया. उन्होंने मंदिर में देवी मां की आरती भी की. इसके बाद  अमित शाह ने सिकंदराबाद के वारसीगुडा में रोड शो किया. इसमें लोगों की भारी भीड़ रही. जान लें कि इससे पूर्व भाजपा अपने कई दिग्गज नेताओं को मैदान में उतार चुकी है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित पार्टी के कई नेता हैदराबाद का दौरा कर चुके हैं.

इसे भी पढ़ें : वाजिद खान की पारसी पत्नी का ससुराल पर जबरन धर्म परिवर्तन करवाने का आरोप, कंगना  ने ट्वीट कर पीएमओ से पूछा

भाजपा इसे चुनाव के केंद्र में रख रही है

अमित शाह आज रो़ड शो से पहले सर्वप्रथम हैदराबाद स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पहुंचे, जहां पूजा-अर्चना की. जान लें कि चार मीनार से सटा यह मंदिर छोटा सा ही है. पर  भाजपा फिलहाल इसे चुनाव के केंद्र में रख रही है.

कुछ दिन पहले ही राज्य चुनाव आयोग ने तेलंगाना सरकार को निर्देश दिये थे कि वह बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत मुहैया कराना बंद करे. इस बीच खबर आयी कि भाजपा नेताओं की शिकायत के बाद ही चुनाव आयोग ने यह रोक लगायी है.

इसे भी पढ़ें :पीएम मोदी के मन की बात में किसान आंदोलन…देवी अन्नपूर्णा की प्रतिमा… पक्षियों की दुनिया की चर्चा…

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने आरोपों को नकार दिया

हालांकि, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बंदी संजय कुमार ने इन आरोपों को नकार दिया. कहा कि वे हैदराबाद ओल्ड सिटी में मौजूद भाग्यलक्ष्मी मंदिर जाकर सच की शपथ लेंगे और भाजपा पर लग रहे आरोपों को गलत साबित करेंगे. इसके बाद पिछले शुक्रवार को बंदी संजय कुमार के साथ उनके सैकड़ों समर्थक चार मीनार से सटे इस मंदिर में पहुंच गये.

जान लें कि कि ओल्ड सिटी का यह इलाका ओवैसी बंधुओं का प्रभाव क्षेत्र वाला माना जाता है.   यहां बड़ी संख्या में मुस्लिम आबादी बसती है. भाजपा समर्थकों के चार मीनार के पास से गुजरने पर इलाके में तनाव का माहौल बन गया था.

इसे भी पढ़ें : आज रात एक विशालकाय उल्कापिंड 90,000 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से धरती के करीब से गुजरेगा

यह मंदिर चारमीनार से सटा है

दो दिन पहले  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रहलाद मोदी भी भाग्यलक्ष्मी मंदिर पहुंचे थे. एक साल पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत भी हैदराबाद दौरे पर सबसे पहले इस मंदिर में ही पहुंचे थे. इस क्रम में उन्होंने मौज्जम जाही मार्केट में सभा को संबोधित किया था.

  भाजपा का अचानक से भाग्यलक्ष्मी मंदिर को केंद्र बना लेना राजनीतिक विश्लेषकों की नजर में  राजनीतिक चाल है.  इसकी एक वजह यह बतायी गयी है कि यह मंदिर चारमीनार से सटा है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: