GiridihJharkhand

पति ने पत्र लिखकर भेजा तीन तलाक, बेटी के साथ अनशन पर बैठी पत्नी

Giridih: ट्रिपल तलाक़ का मामला गुरुवार को गिरिडीह के धनवार के परशन ओपी के सिमराडीह गांव से सामने आया है. पीड़िता महिला को जब इनसाफ नहीं मिला तो वो थाना परिसर में ही अपनी बेटी के साथ अनशन पर बैठ गयी.  पीड़िता सीमा परवीन की चार साल की बेटी है. दोनो मां-बेटी परशन ओपी थाना के बरामदे में आमरण अनशन पर बैठी है. अनशन के पहला दिन होने के कारण ओपी प्रभारी का ध्यान सीमा प्रवीण और उसकी बेटी की तरफ नही गया. लेकिन गुरुवार से अनशन शुरू करने के बाद अब सीमा प्रवीण का कहना है जब तक उसे इनसाफ नहीं मिल जाता, वो अपनी बेटी के साथ इसी तरह अनशन पर बैठी रहेगी. सीमा परवीन को उसके पति साहबाज़ रजा ने गिरिडीह से बाहर रहते हुए  रजिस्ट्री के माध्यम से ट्रिपल तलाक़ का पत्र भेजा. जिसमे ट्रिपल तलाक़ का साफ तौर पर जिक्र था.

इधर ओपी प्रभारी वीर सिंह ने कहा कि आरोपी पति शाहबाज की गिरफ्तारी को लेकर प्रयास हो चुकी है. उसके मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस पहले चेन्नई गई. लेकिन चेन्नई जाने के बाद आरोपी पति का मोबाइल लोकेशन कोलकाता बताने लगा. लिहाजा, पुलिस टीम को खाली हाथ लौटकर आना पड़ा.

जानकारी के अनुसार ओपी गांव के सिमराडीह गांव निवासी अख्तर अली की बेटी सीमा के साथ गांव के ही शाहनवाज आलम के बेटे शाहबाज रजा के साथ साल 2013 में निकाह हुआ था. निकाह के कुछ साल बाद सीमा को एक बेटी हुई. बेटी होने के बाद से उसे उसके पति शाहबाज और सास ससुर ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. और मायके से पांच लाख लाने का दवाब बनाने लगे. इसका जब सीमा ने विरोध किया तो उसके पति समेत सास ससुर ने टॉर्चर करना शुरू कर दिया. इसके बाद वो अपने मायके लौट आई. जहां कुछ महीने पहले उसे उसके पति शाहबाज से मिले रजिस्ट्री ट्रिपल तलाक़ का लेटर मिला. और उसके बाद वो गुरुवार से परशन ओपी परिसर में अनशन शुरू कर दी है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें: SSP से भाजपा महिला मोर्चा ने की भेंट, दुष्कर्म पीड़िता को न्याय दिलाने की लगायी गुहार

Related Articles

Back to top button