JharkhandRanchi

भीमा कोरेगांव केस में गिरफ्तार फादर स्टेन स्वामी की रिहाई की मांग को लेकर अनशन

Ad
advt

Ranchi:  भीमा कोरेगांव केस में एनआइए द्वारा गिरफ्तार किये गये फादर स्टेन स्वामी की रिहाई की मांग को लेकर सोमवार को विभिन्न सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक संगठनों की ओर से बिरसा समाधि स्थल पर एक दिवसीय अनशन किया गया.

इस अवसर पर केंद्र सरकार के खिलाफ नारे लगाये गये. कहा गया कि फादर स्टेन स्वामी बिरसा मुंडा की विरासत को आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं. दूसरी ओर जल जंगल जमीन पर हमला बढ़ता जा रहा है. राज्य की स्वत्तायता के विरूद्ध केंद्र सरकार काम कर रही है.

advt

इसे भी पढ़ें – विवाद सुलझाने को मीडिया के सामने बैठेगी मेयर और नगर आयुक्त की पंचायत

अनशनकारियों ने इन चार बिंदुओं पर अपनी मांगें रखीं

–  राज्य की स्वत्तायता को बनाए रखने के लिए राज्य सरकार केन्द्र सरकार को पत्र लिखे और स्टेन स्वामी को रिहा कराने के लिए त्वरित कार्रवाई करे.

advt

– भीमा कोरेगांव के केस मे फर्जी तरीके से फंसाये गए मानवाधिकार कार्यकर्ताओं- वकीलों पर से मुकदमा वापस लिया जाये.

– एनआइए एवं सुरक्षा कानूनों का दुरुपयोग बंद किया जाये.

-एनआईए के बारे में झारखंड सरकार सुस्पष्ट स्टैंड ले जैसा पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ व केरल ने लिया है.

अनशन में आलोका कुजूर, भुनेश्वर केवट, कुमार विनोद, नदीम खान, सिराज दत्ता, इबरार अहमद, फ़ादर महेंद्र पीटर तिग्गा, रतन तिर्की, प्रभाकर तिर्की, दामोदर तुरी, अजीता, प्रभा लकड़ा, आइटी तिर्की, खुसनी सेन, नंदिता भट्टाचार्या, स्वाति नारायण, सुशांतो, प्रवीर पीटर, पीटर मार्टिन, उमेश नजीर, श्याम, सूरज श्रीवास्तव, रिसित, अंटोनी पीएम, बुद्धन सिंह सिंकू आदि शामिल थे.

इसे भी पढ़ें –कस्टमर सैटिस्फैक्शन के मामले में रांची एयरपोर्ट देश में नबंर वन

 

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: