न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बकरी बाजार का कैसे हो इस्तेमाल, इसपर राज्यसभा सांसद, नगर विकास मंत्री और डिप्टी मेयर का अलग-अलग राग

बीजेपी के ही तीन जनप्रतिनिधि खाली पड़े मैदान को लेकर रखते हैं अलग विचार

1,106

Ranchi: रांची नगर निगम के डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने 15 जुलाई को अपर बाजार स्थित बकरी बाजार निरीक्षण को पहुंचे थे. उस वक्त उन्होंने कहा था कि निगम यहां एक मल्टी कॉम्प्लेक्स का निर्माण करेगा.

उनके इस घोषणा के बाद सूबे की बीजेपी सरकार के ही राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार और नगर विकास मंत्री सीपी सिंह के बीच वाक युद्ध शुरू हो गया.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

यह शुरू हुआ महेश पोद्दार के उस पत्र से, जिसमें उन्होंने विभागीय मंत्री को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि राजधानी में खाली पड़े बकरी बाजार मैदान में निर्माण कार्य की दुर्गति से वे बच नहीं पाएंगे. फिलहाल मामला कुछ शांत है, लेकिन निगम अभी भी यहां कॉम्प्लेक्स बनाना ही चाहता है.

इसे भी पढ़ेंःJBVNL में हुए 15 करोड़ के TDS घोटालेबाज को बचाने में फंसे डिप्टी एकाउंटेंट जनरल

मैदान को लेकर बीजेपी के ही तीनों जनप्रतिनिधियों की क्या राय है, इसपर न्यूज विंग संवाददाता ने उनसे तीन सवाल पूछे. सवाल स्पष्ट था कि खाली पड़े बकरी बाजार मैदान का क्या हो. क्या इसे खाली छोड़ दिया जाए ? क्या यहां मल्टी कॉम्पेल्कस बने? या क्या पार्क बनाया जाए ? इसपर इन्होंने अपनी अलग-अलग राय दी.

निगम तय करेगा कि क्या हो बकरी बाजार का, जरूरत पड़ने पर होगा काम: मंत्री सीपी सिंह

मंत्री सीपी सिंह का कहना है कि राजधानी के बीचों-बीच स्थित बकरी बाजार खाली मैदान पर क्या काम हो, यह विभाग नहीं निगम तय करेगा. निगम के काम में उनका कोई हस्तक्षेप नहीं है.

निगम प्रस्ताव भेजेगा, तो विभाग विचार करेगा. लेकिन अगर उनकी निजी राय पूछी जाये, तो वे मैदान को खूला रखने के पक्षधर है. लेकिन, हां इतना जरूर है कि अगर कभी मैदान में किसी काम करने की आवश्यकता पड़ी, तो वहां निर्माण काम जरूर किया जायेगा.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

मंत्री सीपी सिंह ने अपनी बातों को पुख्ता करने के लिए एचइसी का उदाहरण दिया. कहा कि कुछ वर्ष पहले यहां जंगल जैसी स्थिति थी, लेकिन जरूरत पड़ी, तो वहां स्मार्ट सिटी बनाया जा रहा है.

काम को लेकर निगम अडिग, 20 % हिस्से पर होगा काम: संजीव विजयवर्गीय

बकरी बाजार मैदान निर्माण काम क्या हो, इसपर डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय अपने कहे बयानों पर अडिग दिखे. उन्होंने साफ कहा कि मैदान के 80 प्रतिशत हिस्सा ओपेन रखा जाना है.

Related Posts

इसे भी पढ़ेंःखूंटी जिले के हर 18 वें व्यक्ति को सरकार देशद्रोही मानती है!  पत्थलगड़ी को लेकर जिला प्रशासन ने धारा 124 ए के तहत देशद्रोह का आरोपी  बनाया

वही 20 प्रतिशत हिस्सा में मल्टी कॉम्पलेक्स का निर्माण कराया जायेगा. यानि निरीक्षण के दौरान डिप्टी मेयर और अपर नगर आयुक्त ने जो कहा था कि मैदान करीब 6.2 एकड़ में फैला है, तो उस हिसाब से मैदान के 1.2 एकड़ जमीन पर ही निगम मल्टी कॉम्पलेक्स बनाने की तैयारी में है. मैदान के 20 प्रतिशत हिस्से पर काम वही होगा, जहां लोग खाली पड़े हिस्से को अतिक्रमित कर रह रहे हैं.

मार्केट निर्माण के अभी भी विरोधी, अतिक्रमण को मिलेगा बढ़ावा : महेश पोद्दार

राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने कहा कि शहर के बीचों-बीच स्थित खाली पड़े बकरी बाजार मैदान में निगम के मार्केट बनाने के वो अभी भी विरोधी है.

अगर एक बार मार्केट बन जाता है, तो स्थानीय लोग कब्जा कर अवैध दुकान बनाने लगेंगे, जिससे अतिक्रमण को बढ़ावा मिलेगा.
सांसद ने कहा कि मैदान के 2-4 किमी हिस्से में हजारों बच्चे ऐसे हैं, जिनके पास खेलने का कोई मैदान नहीं है.

इसलिए उनकी इच्छा है कि बकरी बाजार को स्थानीय बच्चों के खेल मैदान के रूप में विकसित हो. मैदान की लोहे की जाली से घेराबंदी कर दी जाये.

कुछ-कुछ दूरी पर बैठने के लिए कुर्सियों की व्यवस्था हो, ताकि टहलने आए लोग बैठ सके. जमीन के एक हिस्से में बारिश के पानी के लिए वाटर हार्वेंस्टिंग की भी सुविधा हो.

मैदान के चारों तरफ खाली जगह में लोग पार्किंग भी कर सके. खाली मैदान को ऐसा बनाया जाये कि समय-समय पर यहां किसी तरह के धार्मिक महोत्सव का आयोजन हो.

इसे भी पढ़ेंःऑटो सेक्टर में मंदी का दौरः नहीं घटी जीएसटी तो जा सकती है 10 लाख लोगों की नौकरी 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like