न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबाद के कोचिंग सेंटर कितने सुरक्षित- अभिभावकों को सताने लगी है बच्चों की चिंता

984

Dhanbad: अगर आप अपने बच्चों को बेहतर भविष्य के लिए ऊंची इमारतों में बने शिक्षण संस्थानों में भेज रहे  हैं, तो जरा सावधान हो जायें, क्‍योंकि आप जिस कोचिंग सेंटर में अपने बच्चे को भेज रहे वहां आग से बचने के लिए जो सुविधा होनी चाहिए, वो मुकम्‍मल नहीं है. गुजरात के सूरत में कोचिंग सेंटर में लगी भीषण आग के कारण 20 छात्रों की जान चली गयी है. इस घटना के बाद अब धनबाद के कोचिंग सेंटरों की भी सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं.

इसे भी पढ़ें – ममता कहा, सीएम नहीं बने रहना चाहती, इस्तीफे की पेशकश, आयोग, केंद्रीय सुरक्षा बल पर लगाये आरोप

अभिभावक हुए चिंतित

सूरत के एक कोचिंग सेंटर में शुक्रवार को लगी भीषण आग में 20 छात्रों की मौत के बाद धनबाद के अभिभावक भी शहर के कोचिंग सेंटरों की स्थिति को लेकर चिंतित हो गये हैं. अभिभावक व अन्य लोगों को कोचिंग सेंटर में अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता सता रही है.

इसे भी पढ़ें – एनडीए संसदीय दल की बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, वीआईपी कल्चर और छपास-दिखास से बचें

Related Posts

65+ के लिए शुरू हुआ संथाल में बीजेपी का मिशन 15

जनजाति बहुल जेएमएम के गढ़ संथालपरगना पर बीजेपी का विशेष ध्यान, 2014 में पार्टी जीती थी केवल 7 सीटें

फायर फाइटिंग सिस्टम बंद पड़े हैं

फायर स्टेशन ऑफिसर ने बताया कि बहुमंजिली इमारत सिटी सेंटर जिसमें कई नामी शिक्षण संस्थान, प्रतिष्ठान और शॉपिंग सेंटर हैं, उसमें आग से बचने के लिए सुरक्षा के उपाय तो किये गये हैं, लेकिन समुचित देख– रेख के अभाव में फायर फाइटिंग सिस्टम बंद पड़े हैं. जिससे आग लगने के वक्त ये सिस्टम काम करें इसकी संभावना कम होती है. इसके अलावा कई बहुमंजिली इमारतों में आग से सुरक्षा के मानकों का उल्लंघन भी हो रहा है. बहुमंजिली इमारतों का निर्माण कर और फायर सिस्टम लगा कर एनओसी ले लिया जाता है, लेकिन उनका सही से संचालन नहीं होता है.

इसे भी पढ़ें – गिरिडीहः युवक व उसके पिता के खिलाफ यौन शोषण व मारपीट का केस दर्ज

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: