JharkhandLead NewsRanchi

विधायकों की खरीद-फरोख्तः अपने विधायकों को कांग्रेस ने दी क्लीनचिट, कहा- भाजपा दुष्प्रचार कर रही

Ranchi: सरकार गिराने की साजिश मामले को लेकर कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने बुधवार को रांची स्थित अपने आवास पर विधायकों को बुलाया. मौके पर प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव भी मौजूद थे. दोनों वरीय नेताओं की मौजूदगी में डॉ इरफान अंसारी, उमाशंकर अकेला, नमन विक्सल कोंगाड़ी समेत अन्य विधायकों से पूरी घटनाक्रम की जानकारी ली गयी. हालांकि सभी विधायकों ने एक सुर में यही कहा कि यह कोई मसला नहीं है, भाजपा दुष्प्रचार कर रही है.

विधायकों ने कहा कि सरकार की छवि को खराब करने की साजिश हो रही है.  बैठक के बाद विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने विधायक खरीद-फरोख्त मामले को सिरे से खारिज कर दिया. कहा कि दिल्ली जाना और किसी से मिलना कोई बहुत बड़ा मसला नहीं है. मिलने का मतलब ऐसा नहीं है कि कोई सरकार गिरा दे.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले को लेकर झारखंड की राजनीति गर्म है. इस मामले के तार कांग्रेस विधायकों से जुड़ गये हैं. इधर, रांची पुलिस ने तीन संदिग्धों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

इसे भी पढ़ें – IT Raid Update: कागजात की जांच और पूछताछ जारी

क्या कहा विधायकों ने

– विधायक अम्बा प्रसाद ने कहा कि क्षेत्र का काम था, इसी वजह से अपने नेता से मिलने आई थी. इसके अलावा पारा टीचर का भी कुछ मामला था, जिसपर बात करनी थी.

– विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह ने कहा कि अपने क्षेत्र में पार्टी कार्यालय खोला जाना है, उसी सिलसिले में मिलने आई थी.

– विधायक डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि हमारे क्षेत्र में पुल नहीं है,जिस वजह से लोगों को परेशानी हो रही है. इसको लेकर में विधायक दल के नेता से मिलने आया था.

– विधायक भूषण बाड़ा ने कहा कि काफी दिनों से पार्टी लीडर से नहीं मिले थे,आवास मिलने आये थे. खरीद-फरोख्त मामले में कुछ खास नहीं था, सामान्य सी चर्चा रही.

इसे भी पढ़ें – फर्जी आइएएस मोनिका की मदद करने वाले विधानसभा के आप्त सचिव पंकज कुमार सस्पेंड

बैठक में शामिल होने वाले विधायक

पूर्णिमा नीरज सिंह, राजेश कच्छप, अंबा प्रसाद, भूषण बाड़ा भी शामिल हुए.

प्रदेश प्रभारी ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी मांगी

कांग्रेस के झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह ने विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले पर पूरी जानकारी मांगी है. इस बाबत उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव व विधायक दल के नेता आलमगीर आलम को फोन किया था. सारे विधायकों से पूछताछ के बाद पूरी रिपोर्ट पार्टी आलाकमान को भेजी जायेगी.

इसे भी पढ़ें – Jharkhand: रोड टैक्स पर लगा लेट फाइन माफ, सात दिनों में करना होगा भुगतान

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: